कन्हैया से जबरन लिखवाई पुलिस ने चिट्ठीः मानवाधिकार आयोग

जेएनयू परिसर में देश विरोधी नारा लगाने के आरोप में गिरफ्तार विश्वविद्यालय छात्रसंघ के अध्यक्ष कन्हैया कुमार द्वारा लिखे जिस चिट्ठी को पुलिस ने जारी...

कन्हैया से जबरन लिखवाई पुलिस ने चिट्ठीः मानवाधिकार आयोग

kanhaiya kumar जेएनयू परिसर में देश विरोधी नारा लगाने के आरोप में गिरफ्तार विश्वविद्यालय छात्रसंघ के अध्यक्ष कन्हैया कुमार द्वारा लिखे जिस चिट्ठी को पुलिस ने जारी किया था उस चिट्ठी को उन्होंने अपनी मर्ज़ी ने नहीं लिखा था। इस बात का खुलासा राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग (एनएचआरसी)ने जांच में कहा है ।

जानकारी के अनुसार शु्क्रवार को एनएचआरसी ने अपनी रिपोर्ट में कहा कि कन्हैया की अपील की जो चिट्ठी दिल्ली पुलिस ने जारी की थी उसे पुलिस ने दबाव डालकर कन्हैया से लिखवाई थी। उधर एनएचआरसी की रिपोर्ट सामने आने के बाद दिल्ली पुलिस की तरफ से अभी तक इस पर कोई प्रतिक्रिया नहीं मिल पाई है। मानवाधिकार आयोग की टीम ने शुक्रवार को तिहाड़ जेल का दौरा किया और कन्हैया से मुलाकात की।

श्रोत के अनुसार मानवाधिकार आयोग को कन्हैया ने कहा कि पूछताछ के दौरान पुलिसन ने उन पर किसी तरह का टॉर्चर तो नहीं किया था लेकिन पुलिस ने उनपर दबाव डालने की कोशिश की थी। इसी बीच कन्हैया ने कहा कि पुलिस ने उनसे जबरन वो चिट्ठी लिखवायी थी।

मानवाधिकार आयोग की रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि पटियाला हाउस कोर्ट में पेशी के दौरान कन्हैया पर जिस तरह से हमला किया गया वो पूरी तरह से पूर्वनियोजित था और ऐसा इसलिए हुआ क्योंकि पुलिस की तरफ़ से सुरक्षा में लापरवाही की गई थी। आयोग की रिपोर्ट में कहा गया है कि हालात की समीक्षा करने के बाद लगता है कि कन्हैया और उसके परिवार की सुरक्षा गंभीर चिंता का विषय है।