एशिया कप- पहले मैच में भारत-बांग्लादेश भिडेंगे....धोनी के खेलने पर सस्पेंस

बांग्लादेश  में बुधवार से एशिया कप शुरु हो रहा है....और सबसे पहला मुक़ाबला बांग्लादेश और भारत के बीच मीरपुर में होगा।लेकिन बांग्लादेश के खिलाफ...

एशिया कप- पहले मैच में भारत-बांग्लादेश भिडेंगे....धोनी के खेलने पर सस्पेंस

images

बांग्लादेश  में बुधवार से एशिया कप शुरु हो रहा है....और सबसे पहला मुक़ाबला बांग्लादेश और भारत के बीच मीरपुर में होगा।

लेकिन बांग्लादेश के खिलाफ शुरुआती मुकाबले में ही टीम इंडिया कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के खेलने पर सस्पेंस बना हुआ है...दरअस्ल टीम इंडिया के ट्रेनिंग सेशन के दरमियान धोनी की मांसपेशियों में खिंचाव आ गया था....जिस वजह से बीसीसीआई को धोनी के बैकअप के तौर पर पार्थिव पटेल को बुलाना पड़ा है।

पहली बार ऐसा हुआ है जब एशिया कप चैंपियनशिप....वर्ल्ड कप टी20 को मद्देनज़र रखते हुए वनडे फॉर्मेट की बजाय टी 20 फॉर्मेट में खेली जायेगी....जिस कारण इस सभी ऐशियाई टीमों को टी 20 टूर्नामेंट से पहले जरुरी ‘मैच टाइम' मिलेगा।

वहीं एशिया कप को हासिल करने के लिए टीम इंडिया का बेहतर प्रदर्शन करना ज़रुरी है...जो टी-20 चैंपियनशिप के लिए टीम का मनोबल बढ़ाने का काम करेगा।

बकौल भारतीय कप्तान धोनी.... 'खेल में बदला बहुत कड़ा शब्द है', लेकिन भारतीय टीम मजबूत बांग्लादेश को पराजित करने के लिए बेताब होगी, जिसने उन्हें पिछले साल इसी जगह तीन मैचों की वनडे सीरीज में शिकस्त दी थी’।

टीम इंडिया की तरफ से टी-20 की तैयारियां बेहतरीन तरीके से शुरु हुई हैं...चाहे वो ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ उसकी सरजमीं हो या फिर घरेलू मैदान पर श्रीलंका के खिलाफ लगातार सीरीज़ अपने नाम करना हो।

टीम इंडिया ने 2015 से अभी तक 6 टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेले हैं....जिसमें से उसने पांच में जीत हासिल की.....उसे केवल पिछली सीरीज़ में पुणे की असमान्य पिच पर श्रीलंका के खिलाफ शिकस्त झेलनी पड़ी.....कुल मिलाकर कहा जा सकता है कि टी-20 फॉर्मेट में धोनी एंड कंपनी की एकजुटता दिखाई दे रही है।

लेकिन अस्ल परीक्षा एशिया कप से ही शुरु हो रही है.....क्योंकि तब टीमों की तैयारी कम ...लय ज़्यादा मायने रखेगी।

वहीं बांग्लादेशी टीम को हल्के में लेना टीम इंडिया की सबसे बड़ी भूल साबित हो सकती है....जिसका ख़्याल टीम इंडिया को रखना होगा.....क्योकि वो घरेलू जमीं पर काफी मजबूती के साथ प्रदर्शन करने की कोशिश करेगी।

हालांकि धोनी ने टीम संयोजन को लेकर संकेत दिए थे कि वो सभी 15 खिलाड़ियों को 'गेम टाइम­' देना चाहेंगे...­­­­­­

वैसे बैटिंग ऑर्डर पर नज़र डाले तो शिखर धवन और रोहित शर्मा की जोडी टॉप ऑर्डर में रहेगी....वहीं विराट कोहली तीसरे नंबर पर ही रहेंगे....और सुरेश रैना...जिन्हे 20-20 फॉर्मेट की एक्सपर्टी हासिल है...चौथे नंबर पर बैटिंग करने उतरेंगे.... युवराज सिंह उनके बाद मैदान में आएंगे....टी20 फॉर्मेट हो और बैट्स मैन रविन्द जडेजा,‘बिग हिटर' हार्दिक पंड्या,आर आश्विन से भी काफी उम्मीदें हैं।
भारतीय गेंदबाजी के प्रदर्शन की बात करें तो आर आश्विन बॉलिंग अटैक का नेतृत्व करेंगे.... आस्ट्रेलिया में ऊंचे स्कोर वाली वनडे सीरीज़ में औसत प्रदर्शन के बाद अश्विन ने टी20 सीरीज़ में फॉर्म में वापसी करते हुए अंतिम छह टी20 मैचों में 13 विकेट झटके.....श्रीलंका के खिलाफ सीरीज में उन्होंने तीन मैचों में नौ विकेट चटकाये और विशाखापत्तन में निर्णायक मुकाबले में आठ रन देकर चार विकेट से अपने करियर का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन भी किया।

वहीं नेहरा और बुमरा से तेज गेंदबाजी को लेकर काफी उम्मीदें हैं...जिनमें नेहरा को काफी अनुभवी है और वो मैच के हालात को पढ़ने की काबिलियत रखते हैं....जबकि बुमरा का असमान्य बॉलिंग एक्शन....बल्लेबाजों को परेशानी में डाल देता है।