रेल बजट LIVE: ये मेरा नहीं बल्कि आम लोगों का बजट हैः प्रभु

लोकसभा में बजट पेश करते हुए रेल मंत्री ने कहा हम एेसे दौर में रेलवे की बेहतरी की कोशिश कर रहे हैं जिस दौर में दुनिया मंदी से गुजर रही है। हम जानते...

रेल बजट LIVE: ये मेरा नहीं बल्कि आम लोगों का बजट हैः प्रभु

suresh prabhu parlलोकसभा में बजट पेश करते हुए रेल मंत्री ने कहा हम एेसे दौर में रेलवे की बेहतरी की कोशिश कर रहे हैं जिस दौर में दुनिया मंदी से गुजर रही है। हम जानते हैं कि रेलवे के काम में सुधार की काफी जरूरत है। इस पर सबसे ज्यादा ध्यान दिया जा रहा है।

प्रभु ने बजट पेश करते हुए कहा कि ये मेरा बजट नहीं बल्कि आम लोगों का बजट है। उन्होंने कहा कि

- ये बजट देश की नई यात्रा और बदलाव का होगा।

- हम अपनी क्षमता बढ़ाएंगे और नए स्रोतों के जरिए राजस्व जुटाएंगे।

- रेलवे में एक रुपये के निवेश से पूरी अर्थव्यवस्था में पांच रुपये की वृद्धि हो।

- हम रेलवे को भारतीय अर्थव्यवस्था की रीढ़ बनाना चाहता हूं।

- जनता को ऐसी रेल सेवा मुहैया कराना है, जिस पर वे गर्व कर सकें।

- वित्तीय वर्ष 2016-17 में पूंजीगत योजना के लिए 1.21 लाख करोड़ रुपये रखे गए हैं

- आगामी वित्तीय वर्ष में शून्य आधारित बजट प्रक्रिया की अवधारणा अपनाएंगे

- अगले वर्ष तक 1,84,820 करोड़ रुपये का राजस्व जुटा सकेंगे।

- हमारा निवेश पिछले वर्ष के औसत का लगभग दोगुना होगा।

- जनता की हर सुविधा का ख़्याल रखा जाएगा ।

-सरकार का ध्यान कस्टमर सर्विस औऱ रेलवे सुधार पर है।

- ये बजट भारत के आम नागरिकों की हसरत का आईना है।

- 2020 तक जब लोग चाहे तब मिलेगा रेलवे टिकट।

-राज्यों के साथ मिलकर पीपीपी मॉडल।

-हर दिन सात किलोमीटर नए रेलवे ट्रैक बनाए गए।

-2800 किलोमीटर रेलवे ट्रैक को पूरा किया गया है।

-मालगाड़ियों की गति बढ़ाकर 50 किलोमीटर प्रति घंटा करने की कोशिश।

-पैसेंजर ट्रेन में बायो टॉयलेट बनाने की कोशिश की जाएगी।

- रेलवे के परिचालन शुल्क को कम करने की कोशिश।

-रेलवे कर्मचारियों को 11.67 फीसदी ज्यादा वेतन मिलेगा।

-समाज के हर वर्ग के लोगों ने रेल बजट के लिए सुझाव दिए-

-रेल मंत्री ने कहा देश में घूमने और कई लोगों से मिलने के बाद बजट बनाया

-रेल मंत्री ने कहा कि ये चुनौतियों का समय और सबसे कठिन दौर है जिसका हम सामना कर रहे हैं।

प्रभु ने दिए देश को कुछ ख़ास तोहफे....

- रेल यात्री किराया नहीं बढ़ा.... हर कोच में महिलाओं को 33 प्रतिशत आरक्षण का लाभ

-4 नई कैटेगरी वाली ट्रेने मिली

-95% ट्रेनें अपने नियत समय पर चलेंगी।

- सभी पदों के लिए ऑनलाइन भर्ती होगी।

- 17 हजार बायो टायलेट इस साल के आखिर में ट्रेनों में लगेंगे।

-पहला बायो वैक्यूम टायलेट डिब्रूगढ़ राजधानी में लगेगा।

-यात्रियों के शिकायत के लिए नई फोन लाइन 182 शुरु होगी।

-311 स्टेशनों पर सीसीटीवी कैमरे लगेंगे।

-नॉर्थ ईस्ट क्षेत्रों पर सरकार का फोकस, अगरतला को ब्रॉडगेज से जोड़ा जाएगा।

-स्टेशनों के सुंदरीकरण पर फोकस। तीर्थ स्थल अमृसर, नाशिक, विशाखापट्नस, पुरी, वाराणसी, वास्को। कुलियों को सॉफ्ट स्किल के तहत लाया जाएगा।

- दो हजार स्टेशनों पर रेल डिस्प्ले नेटवर्क होगा। मनोरंजन के लिए गाड़ियों में एफएम रेडियो स्टेशन।

-स्मार्ट सवारी डिब्बे को बनाने की योजना। न्यू स्मार्ट कोच यात्रियों की जरूरत के मुताबिक होंगी।

-जरूरी दवाओं के साथ दूध भी मिल सकेगा। एससी और एसटी के लिए नई व्यवस्थाएं की जा रही हैं। महिलाओं के लिए भी खास तैयारी किए जा रहे हैं।

- 44 प्रोजेक्ट पर काम होगा। 5300 किलोमीटर नई लाइन तैयार की जाएगी।

 - चेन्नई में इंडिया का पहला ऑटो हब बनाया जाएगा।


 - इंजीनियरिंग के छात्रों के लिए इंटर्नशिप की व्यवस्था की जाएगी।

- अगले पांच वर्षों के लिए मिशन रफ्तार शुरु होगा

- एलआईसी डेढ़ लाख करोड़ रुपए निवेश करेगा।

-  रेलवे के दो एप्लीकेशन के जरिए ट्रेन टिकट बुक और कैंसिल किए जाएंगे।