रोहित, जेएनयू को लेकर संसद में आज भी हंगामे के आसार

हैदराबाद विश्वविद्यालय के छात्र रोहित वेमुला और जेएनयू को लेकर संसद के इस बजट सत्र में अब तक काफी हंगामा देखने को मिला। इन मामलों को लेकर आज भी...

रोहित, जेएनयू को लेकर संसद में आज भी हंगामे के आसार

smriti iraniहैदराबाद विश्वविद्यालय के छात्र रोहित वेमुला और जेएनयू को लेकर संसद के इस बजट सत्र में अब तक काफी हंगामा देखने को मिला। इन मामलों को लेकर आज भी हंगामे का आसार है। गुरुवार का दिन भी हंगामे की भेंट चढ़ गया। राज्यसभा में रोहित वेमुला पर बहस के दौरान स्मृति ईरानी के जवाब पर संसद हंगामेदार रहा। गौरतलब है कि स्मृति‍ ईरानी ने कहा था कि दुर्गा पूजा पर जेएनयू में महिषासुर की पूजा की गई थी। इस बयान के चलते संसद में आज भी हंगामे के पूरे आसार हैं। स्मृति के बयान का आनंद शर्मा ने विरोध किया और कांग्रेस ने दो टूक शब्दों में स्मृति ईरानी से माफी मांगने की बात कही।

उधर रोहित वेमुला की खुदकुशी मामले में स्मृति ईरानी के एक बयान ने मामले को नया तूल दे दिया है। खुदकुशी के बाद रोहित के शरीर की जांच करने वाली डॉक्टर ने स्मृति ईरानी के संसद में दिए बयान को पूरी तरह से नकार दिया है। एक न्यूज चैनल से बात करते हुए डॉ राजश्री मालपथ ने कहा कि जब उन्होंने जांच की तब रोहित की न तो नब्ज़ चल रही थी, न ही उसकी धड़कन चल रही थी। जांच के बाद उन्हें मृत घोषित कर दिया था।

रोहित वेमुला मामले पर संसद में स्मृति ईरानी ने कहा था कि आख़िरी समय में रोहित को बचाने की कोशिश नहीं की गई, न ही उसके पास किसी डॉक्टर को जाने दिया गया, न ही उसे अस्पताल ले जाया गया। स्मृति ने इस दावे के लिए पुलिस रिपोर्ट का सहारा लिया था। इस मामले को लेकर आज रोहित का परिवार और विश्वविद्यालय के निलंबित छात्र प्रेस कॉन्फ्रेंस करने वाले हैं।

इससे पहले गुरुवार को राज्यसभा में जेएनयू और पटियाला हाउस कोर्ट परिसर में मारपीट के मसले पर केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह के जवाब के वक्त कांग्रेस और वाम दल वॉक आउट कर गए। विपक्ष ने मोदी सरकार पर कोर्ट परिसर में कन्हैया से मारपीट के आरोपी वकीलों और बीजेपी विधायक ओपी शर्मा को बचाने का आरोप लगाया।