कर्ज में डूबे सिरफिरे पति ने पत्नी व बेटी को बेचने के लिए एफबी पर इस्तेहार लगाया

कर्ज में डूबे एक सिरफिरे पति ने सोशल मीडिया यानी फेसबुक पर अपनी पत्नी को एक लाख रुपए में बेचने के लिए इस्तेहार लगाया है। पीड़ित पत्नी की शिकायत पर...

कर्ज में डूबे सिरफिरे पति ने पत्नी व बेटी को बेचने के लिए एफबी पर इस्तेहार लगाया

faceकर्ज में डूबे एक सिरफिरे पति ने सोशल मीडिया यानी फेसबुक पर अपनी पत्नी को एक लाख रुपए में बेचने के लिए इस्तेहार लगाया है। पीड़ित पत्नी की शिकायत पर पुलिस ने आरोपी पति के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। फिलहाल आरोपी फरार है। पुलिस उसकी तलाश में जुटी है। आरोपी खुद को प्रोफेसर बताता था।

घटना इंदौर के एरोड्रम थाना क्षेत्र की है। पीड़िता की शादी चार साल पहले सनावद (खरगोन) में रहने वाले दिलीप कुमार से हुई थी। शादी के बाद वो दिलीप के साथ इंदौर आ गई और मायके के पास ही किराए के मकान में रहने लगी। दिलीप खुद को कभी प्रोफेसर बताता था तो कभी मैनेजर। लेकिन वास्तव में वह कोई काम नहीं करता था। करीब दो महीने पहले आरोपी दिलीप घर छोड़कर भाग गया तब से पीड़िता अपने माता-पिता के साथ रहने लगी। शनिवार रात एक रिश्तेदार ने पीड़िता को फोन पर बताया कि दिलीप ने फेसबुक पर उसका और बेटी का फोटो लगाकर उनको बेचने की बात लिखी है।
आरोपी दिलीप ने फेसबुक पर अपनी पत्नी के फोटो अपलोड कर लिखा है कि मेरी वाइफ को एक लाख रूपए में बेचना है। किसी को खरीदना है तो कांटैक्ट करें। साथ ही उस पोस्ट पर आरोपी ने अपना नंबर भी लिखा है। इसके अलावा हैरत की बात यह है कि वहशी व्यक्ति ने पोस्ट में अपनी मासूम बेटी का फोटो भी अपलोड किया है। उसके नीचे लिखा है 'मैंने जिस-जिस से पैसे लिए, उनको वापस चुकाना है, इसलिये मैं वाइफ को बेच रहा हूं, प्लीज कोई तो खरीद लो यार। प्लीज कॉल मी।'

 आरोपी दिलीप फेसबुक पर दो आईडी बना रखा है। इनपर वो पर खुद को प्रोफ़ेसर बताता है, जबकि वो कहीं प्रोफ़ेसर नहीं है। साल 2010 में भी दिलीप ने फेसबुक पर फेक आईडी बनाकर कुछ महिलाओं को परेशान करने की कोशिश की थी। महिलाओं द्वारा पुलिस शिकायत की धमकी देने पर उसने उस आईडी का इस्तेमाल बंद कर दिया था।

पुलिस के मुताबिक पीड़ित महिला की शिकायत पर पुलिस ने आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज कर तलाश शुरु कर दी है। उसे पकड़ने के लिए एक टीम को उसके गांव भेजा जा रहा