सरकार का रोलबैक - ईपीएफ पर टैक्स नहीं लगेगा

[caption id="attachment_44926" align="aligncenter" width="625"] profit.ndtv.com[/caption]आख़िरकार कर्मचारी भविष्य निधि यानी ईपीएफ पर चौतरफा दबाव के...

सरकार का रोलबैक - ईपीएफ पर टैक्स नहीं लगेगा

[caption id="attachment_44926" align="aligncenter" width="625"]jaitley-modi_625x325_71424452127 profit.ndtv.com[/caption]

आख़िरकार कर्मचारी भविष्य निधि यानी ईपीएफ पर चौतरफा दबाव के चलते केंद्र सरकार ने प्रस्तावित ईपीएफ टैक्स को वापस ले लिया.....संसद में मंगलवार को वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि सरकार ईपीएफ के 60 प्रतिशत हिस्से पर लगाए जाने वाले टैक्स के प्रावधान को फिलहाल वापस ले रही है.....बता दें कि इस बार के आम बजट को पेश करते हुए वित्त मंत्री ने EPF पर टैक्स का ऐलान किया था....सरकार के इस क़दम का ना केवल विपक्ष ने बल्कि आम वेतभोगी कर्मचारी ने भी विरोध किया...इसका कारण ये कि इस बदलाव से देश के करीब छह करोड़ वेतनभोगी प्रभावित होते।

वहीं मंगलवार को वित्त मंत्री ने लोगों को पेंशन फंड में निवेश करने के लिए भी कहा....इसके अलावा एनपीएस (नेशनल पेंशन स्कीम) पर अभी भी 40% रकम निकालने पर टैक्स नहीं लगेग....वैसे वित्त मंत्री ने टैक्स वापस लेने का फैसला करते हुए ये ज़रुर कहा कि इस पर विस्तृत समीक्षा होनी है ।

आख़िर वित्त मंत्री जी के इस बजट प्रस्ताव में क्या था....जिसका विरोध हुआ

-15000 रुपये महीने से कम आय पर टैक्स नहीं

-40% से ऊपर ईपीएफ़ निकालने पर टैक्स
-पेंशन स्कीम में निवेश पर नहीं लगेगा टैक्स

-अप्रैल से जमा 60% रकम पर लग सकता है टैक्स

बजट प्रस्ताव को लेकर क्या दलील थी सरकार की.....
-पेंशन योजना को बढ़ावा मिले
-लोगों की आर्थिक सुरक्षा बनी रहे

-एकसाथ पैसे की निकासी ना हो

-सिर्फ़ 60 लाख लोगों पर कर का भार
-तीन करोड़ से ऊपर 15,000 रुपये महीने वाले

दरअस्ल पिछले दिनों प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वित्त मंत्री अरुण जेटली से इस मामले पर दोबारा विचार करने को कहा था.....ऐसे में कयास लगाए ही जा रहे थे कि जेटली मंगलवार को संसद में ये प्रस्ताव वापस लेने का एलान कर सकते हैं....सोमवार को कांग्रेस ने सरकार के फ़ैसले के विरोध में जंतर मंतर पर प्रदर्शन भी किया था।

इस पूरे मामले पर काफी हो हल्ला मचा हुआ था। EPF टैक्स के खिलाफ एक लाख से ज्‍यादा लोगों ने ऑनलाइन याचिका पर हस्‍ताक्षर भी किए थे। टैक्स को खत्म करवाने के लिए सोशल मीडिया पर #RollBackEPF हैशटैग भी कई दिन चला जिसमें सरकार से लोगों ने अपील की कि इसे वापस ले लिया जाए।