2.5 लाख से ज्यादा रकम जमा करने वालों को इनकम टैक्स ने भेजे नोटिस

नोटबंदी के बाद 2.5 लाख से ज्यादा रकम जमा करने वालों को इनकम टैक्स ने नोटिस भेजना शुरू किया।

2.5 लाख से ज्यादा रकम जमा करने वालों को इनकम टैक्स ने भेजे नोटिस

नोटबंदी के बाद 2.5 लाख से ज्यादा रकम जमा करने वालों को इनकम टैक्स ने नोटिस भेजना शुरू किया। हेराफेरी के शक में संदिग्ध लोगों को नोटिस भेजा जा रहा है। इनकम टैक्स ने एेसे लोगों से रुपयों की जानकारी का ब्योरा मांगा है। वहीं दो साल के इनकम टैक्स रिटर्न की कॉपी भी मांगी है।

मीडिया में आ रही खबरों के मुताबिक इनकम टैक्स ने ऐसे लोगों को नोटिस भेजना शुरू कर दिया है, जिनके खाते में नोटबंदी के बाद से बड़ी रकम जमा हो रही है। दरअसल इनकम टैक्स ने ये कार्रवाई इसलिए शुरू की है क्योंकि कई खातों में अचानक से ढाई लाख रुपये की रकम आई है।

बता दें कि 9 नवंबर से 500-1000 के पुराने नोट बंद होने के बाद अब इऩकम टैक्स डिपार्टमेंट ने भी सख्ती शुरू कर दी है। नोटबंदी के बाद से ही इऩकम टैक्स बैंक खातों में बड़ी राशि जमा किए जाने पर नजर रख रहा है, लेकिन अब इऩकम टैक्स की ओर से ऐसे लोगों को नोटिस जा रहा है, जिनके खातों में संदिग्ध ट्रांजैक्शन हुए हैं।

इस नोटिस में इऩकम टैक्स ने जमा रकम और जमा किए रकम की तारीख का जिक्र करते हुए पैसे के स्रोत के बारे में पूछा है तो सबूत के तौर पर दस्तावेज भी मांगे हैं। दरअसल नोटबंदी के बाद से कई लोग काला धन बैंक खाते में जमा करा रहे हैं। इऩकम टैक्स ने बैंकों और पोस्ट ऑफिस से 50 हजार और उससे ऊपर की जमा होने वाली राशि पर जानकारी देने को कह रखा है ।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक कर्नाटक के मैंगलोर में एक कोऑपरेटिव बैंक में रजिस्टर्ड पांच सोसायटी ने 8 करोड़ रुपये के पुराने नोट बदलवाए थे, जिसके बाद से इऩकम टैक्स और सतर्क हो गया है।

Story by