अमेरिका: माइकल फ्लिन हो सकते है नए राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार

अमेरिका के नए राष्ट्रपति चुने गए डोनाल्ड ट्रंप ने सेवानिवृत्त लेफ्टिनेंट जनरल माइकल फ्लिन को अमेरिका के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) के पद का प्रस्ताव दिया है।

अमेरिका: माइकल फ्लिन हो सकते है नए राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार

अमेरिका के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) के पद का प्रस्ताव दिया है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक ट्रंप के एक वरिष्ठ अ​धिकारी ने इस बात की जानकारी दी है।

वहीं लेफ्टिनेंट जनरल माइकल फ्लिन चुनाव प्रचार के दौरान डोनाल्ड ट्रंप के करीबी सलाहकार रहे है। इस दौरान उनके साथ राष्ट्रीय सुरक्षा के मुद्दों पर काम करते थे। राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार को सीनेट की पुष्टि की जरूरत नहीं होती है। इस प्रस्ताव की जानकारी अधिकारी ने अपनी पहचान छुपाने की शर्त पर दी है। लेफ्टिनेंट जनरल माइकल फ्लिन पूर्व इंटेलिजेंस चीफ भी रहे है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक लेफ्टिनेंट जनरल माइकल फ्लिन ने यह प्रस्ताव स्वीकार किया है या नहीं, इसका पुष्टि नहीं की गई है। फ्लिन अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा के आलोचक रहे है। लेफ्टिनेंट जनरल माइकल फ्लिन और ट्रंप के विचारों में मेल को देखते हुए पहले से ही ट्रंप के करीब रहने की संभावना जताई जा रही थी। उनका मिलिट्री का अनुभव होने के कारण भी वह इस पद के लिए उपयुक्त समझे जा रहे थे।

वह समय-समय पर इस्लामिक स्टेट समूह से लड़ने और वैश्विक मुद्दों को संभालने में प्रशासन के तरीकों की आलोचना करते रहे है। उन्होंने हाल ही में कहा था कि आईएसआईएस के खतरे से निपटने के लिए अधिक आक्रामक यूएस मिलिट्री की जरूरत है।