देशभक्ति गये भूल, चीन से मंगाए जाएंगे ATM के पार्टस

देश में जहां 2 लाख दो हजार एटीएम मशीनें हैं वहीं सिर्फ 22,500 एटीएम ही काम कर रहे हैं। सरकार ने बिना तैयारी के नोटबंदी कर दी जिससे आम जनता को खासी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है आधिकारिक सूत्रों से खबर है कि जो भी एटीएम मशीन काम नहीं कर रहे हैं उनके पार्ट्स अब चीन से मंगाए जाएंगे।

देशभक्ति गये भूल, चीन से मंगाए जाएंगे ATM के पार्टस

देश में 500 और 1000 के नोट बंद हो चुके हैं। 10 दिन से भी ज्यादा हो गए हैं लेकिन अभी भी लोग बैंकों के बाहर लाइन लगाकर पैसे के लिए अपनी बारी का इंतजार कर रहे हैं। जहां एक तरफ 500 और 1000 के नोट एटीएम से निकल नहीं रहे वहीं नए चले 2000 के नोट भी एटीएम सपोर्ट नहीं कर रहे हैं।

देश में जहां 2 लाख दो हजार एटीएम मशीनें हैं वहीं सिर्फ 22,500 एटीएम ही काम कर रहे हैं। सरकार ने बिना तैयारी के नोटबंदी कर दी जिससे आम जनता को खासी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

आधिकारिक सूत्रों से खबर है कि जो भी एटीएम मशीन काम नहीं कर रहे हैं उनके पार्ट्स अब चीन से मंगाए जाएंगे। बता दें कि जारी किए गए नए नोटों को स्वीकार्य करने के लिेए एटीएम में लगने वाले मैगनेटिक कंपोनेंट और हार्डवेयर की कमी की वजह से नोट निकलने में दिक्कतें आ रही हैं। अधिकारियों का कहना है कि एक बार अगर यह पार्ट एटीएम में लग जाए तो एटीएम एक हफ्ते में सुचारू रूप से चलने लगेंगे।

यहां सवाल यह उठता है कि दीवाली पर सरकार के कई नेताओं की तरफ से लोगों से चाईनीज समानों को ना खरीदने की अपील की गई थी। तो वहीं सरकार की तरफ से अब एटीएम को चालू करने के लिए सामान चीन से मंगाए जाएंगे।

हालांकि स्टेट बैंक ऑफ इंडिया की चेयरपर्सन अरुंधती भट्टाचार्य का कहना है कि सारे एटीएम में इन पार्टों की जरूरत नहीं है। उन्होंने कहा कि एटीएम की पर्याप्त मात्रा में आपूर्ति की जा रही है, आने वाले दिनों में इस तरह की कोई समस्या नहीं होगी। वहीं वित्त मंत्रालय के एक सीनियर अधिकारी ने कहा कि यह एक बड़ी समस्या नहीं है और स्थिति जल्द ही सामान्य हो जाएगी।