हरियाणा: शादी समारोह में साध्वी ने चलाई गोली, महिला की मौत

हरियाणा के करनाल जिले में एक शादी समारोह में पहुंची साध्वी और उनके सिक्योरिटी गार्ड्स की फायरिंग में एक महिला की मौत हो गई...

हरियाणा: शादी समारोह में साध्वी ने चलाई गोली, महिला की मौत

अखिल भारतीय हिंदू महासभा की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष साध्वी देवा ठाकुर एक बार फिर विवादों में हैं। हरियाणा के करनाल जिले में एक शादी समारोह में पहुंची साध्वी और उनके सिक्योरिटी गार्ड्स की फायरिंग में एक महिला की मौत हो गई, वहीं पर 4 अन्य लोगों के घायल होने की खबर है। घायलों के परिजनों ने बताया कि साध्वी और उनके गार्ड ने डीजे पर डांस करते वक्त बिना किसी की परवाह किए लगातार फायरिंग की और इसी दौरान यह दुर्घटना हुई। पुलिस ने साध्वी देवा ठाकुर और उनके गनमैन के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस ने कई स्थानों पर रेड मारी लेकिन अभी तक किसी की गिरफ्तारी नहीं हो पाई है।

सूत्रों से मिल रही जानकारी के मुताबिक, यह घटना मंगलवार शाम हुई, जब साध्वी करनाल में एक शादी समारोह में पहुंची। साध्वी के साथ उनके छ: सिक्योरिटी गार्ड्स भी थे, जिनके पास बंदूकें थीं। शादी मंडप के मैनेजर सुमित भाटिया ने मीडिया से बताया कि साध्वी और उनके साथियों ने डांस करते हुए फायरिंग शुरू कर दी। उसने बताया कि जैसे ही उन्होंने फायरिंग शुरू की हमनें पुलिस को सूचना कर दी, क्योंकि इस तरह फायरिंग करना अवैध है। इसी दौरान किसी एक की बंदूक में कुछ खराबी आ गई और गोली अंदर फंस गई। बंदूक ठीक करते समय अचानक वहां खड़े लोगों पर फंसी हुई गोली चल गई।”

इस घटना के बाद घायलों को  स्थानीय लाेगाे कि मदद से अस्पताल ले जाया गया, जिसमें  50 वर्षीय सुमन की मौत हो गई। हादसे के बाद साध्वी देवा ठाकुर अपने साथियों के साथ मौके से फरार हो गई। करनाल के एसपी पंकज नैन ने मीडिया काे बताया कि पुलिस ने साध्वी ठाकुर और उनके सिक्योरिटी गार्ड्स के खिलाफ आईपीसी की धारा 302 और आर्म्स एक्ट के तहत केस दर्ज कर लिया है। कई जगहों पर रेड मारी गई लेकिन आरोपी फरार हैं।” घटना के बाद लोगों में काफी गुस्सा है। इससे पहले 2015 में भी साध्वी देवा ठाकुर अपने एक बयान के चलते विवादों में रही थीं। उन्होंने कहा था कि देश में मुस्लिमों और ईसाइयों की संख्या लगातार बढ़ रही है। इस पर रोक लगाने के लिए केंद्र सरकार को मुस्लिम और ईसाई पुरुषों की नसबंदी करानी चाहिए, ताकि इनकी जनसंख्या पर रोक लग सके।”