इलाहाबाद से ही चुनावी बिगूल फूंक सकती है कांग्रेस

यह कयास लगाए जा रहे हैं कि कांग्रेस हाईकमान अपने पुरखों के शहर से प्रियंका को लेकर कोई बड़ा एलान कर सकता है

इलाहाबाद से ही चुनावी बिगूल फूंक सकती है कांग्रेस

यूपी चुनाव से ठीक पहले कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, उपाध्यक्ष राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वाड्रा कल से अपने पुरखों के शहर इलाहाबाद में रहेंगे। तीनों यहां पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के 99वें जयंती पर साल भर तक होने वाले समारोह का औपचारिक उद्घाटन करेंगे। इस मौके पर उन्हें ख़ास तौर इंदिरा गांधी के जीवन पर लगाई गई चित्र प्रदर्शनी का उद्घाटन करना है। इस दौरान इनके साथ ही कांग्रेस के कई दूसरे बड़े नेता भी इस मौके पर इलाहाबाद में मौजूद रहेंगे।

इलाहाबाद में हो रहे इस आयोजन में प्रियंका की मौजूदगी ख़ास आकर्षण रहेगी। प्रियंका की मौजूदगी से यह कयास लगाए जा रहे हैं कि कांग्रेस हाईकमान अपने पुरखों के शहर से प्रियंका को लेकर कोई बड़ा एलान कर सकता है। इलाहाबाद के कांग्रेसी कार्यकर्ताओं को भी इस बात की उम्मीद है कि पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी, प्रियंका गांधी को सक्रिय राजनीति में लाने की उनकी बरसों पुरानी मांग को हरी झंडी दिखा सकती है। दिग्गज नेताओं के जमावड़े के चलते इलाहाबाद में हो रहे इस आयोजन को यूपी विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस के प्रचार अभियान के आगाज के तौर पर भी देखा जा रहा है।

मीडिया से अब तक मिली जानकारी के मुताबिक़ सोनिया-राहुल और प्रियंका कल यानी सोमवार को सुबह ग्यारह से बारह के बीच चार्टर प्लेन से इलाहाबाद पहुंचेंगे। दिन के वक्त यह तीनो कुछ डेलीगेशन से मुलाक़ात करेंगे। इसके अलावा सोनिया और राहुल दिन में ही मीडिया से भी मुखातिब हो सकते हैं। शाम चार बजे यह लोग इंदिरा गांधी के जन्म शताब्दी समारोह पर इंदिरा की जन्मस्थली आनंद भवन – स्वराज भवन में लगने वाली चित्र प्रदर्शनी का उदघाटन करेंगे।

22 नवंबर को तीनों जवाहरलाल नेहरू मेमोरियल ट्रस्ट और कमला नेहरू स्मारक ट्रस्ट की बैठक में शामिल होंगे। ये बैठकें भी स्वराज भवन में ही होंगी। इस आयोजन में सोनिया-राहुल और प्रियंका के साथ ही दिल्ली की पूर्व सीएम शीला दीक्षित, गुलाम नबी आज़ाद, राज बब्बर और राजीव शुक्ल जैसे नेता भी शामिल रहेंगे।

उत्तर प्रदेश में अगले साल होने वाले चुनाव से पहले यूपी में हर कार्यक्रम महत्वपूर्ण होता जा रहा है। पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के जन्मशताब्दी साल पर 21 नवंबर को होने वाली चित्र प्रदर्शनी के उद्घाटन के मौके पर कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, पार्टी उपाध्यक्ष राहुल गांधी और प्रियंका गांधी भी मौजूद रहेंगी।

भारत रत्न इंदिरा गांधी के जन्मशताब्दी साल पर स्वराज भवन में ‘इंदिरा एक साहसिक जीवन फोटो प्रदर्शनी’ लगाई जा रही है। 21 नवंबर को समारोह के दौरान पूरा गांधी परिवार स्वराज भवन में मौजूद रहेगा। 22 नवंबर से पांच जनवरी, 2017 तक प्रदर्शनी आम जनता के लिए खुली रहेगी।

उत्तर प्रदेश कांग्रेसी कमेटी के प्रवक्ता किशोर वार्ष्णेय ने मीडिया काे बताया कि, प्रदर्शनी में इंदिरा गांधी के आधुनिक भारत निर्माण के महत्वपूर्ण योगदान पर चित्रण की विविध झलक दिखाई देगी। इंदिरा गांधी 1930 तक स्वराज भवन में ही रही थीं। उद्घाटन समारोह में दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित, पूर्व केंद्रीय मंत्री और राज्यसभा सदस्य राजीव शुक्ला, इंदिरा गांधी मेमोरियल ट्रस्ट की नदिंता बेग और सुमन दुबे, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष राज बब्बर और सांसद प्रमोद तिवारी भी मौजूद रहेंगे।

कांग्रेस के राज्यसभा सांसद तथा उत्तर प्रदेश कांग्रेस प्रचार समिति के अध्यक्ष संजय सिंह ने शनिवार को कहा कि कांग्रेस पार्टी की अध्यक्ष सोनिया गांधी की बेटी प्रियंका गांधी वाड्रा ने उत्तर प्रदेश में चुनाव प्रचार के लिए अभी तक अपनी सहमति नहीं जताई है, जबकि पार्टी को उम्मीद है कि वह चुनाव प्रचार में जरूर शिरकत करेंगी।

सिंह ने कहा, “उत्तर प्रदेश में चुनाव प्रचार के लिए हम उनसे लंबे समय से आग्रह कर रहे हैं. हमें उम्मीद है कि वह चुनाव प्रचार के लिए अपनी सहमति देंगी।” उन्होंने कहा, “और जैसे ही वह प्रचार के लिए हामी भरेंगी, हम योजना से सबको अवगत कराएंगे।”

संजय सिंह ने बताया कि, “फिलहाल, उन्होंने हामी नहीं भरी है, लेकिन हमें उम्मीद है कि वह चुनाव प्रचार के लिए हां करेंगी।” मीडिया में आई उन खबरों पर कि अगले साल उत्तर प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव में प्रियंका महत्वपूर्ण भूमिका अदा करेंगी, उन्होंने कहा, “मैं न तो इसकी पुष्टि कर रहा हूं और न ही इससे इंकार कर रहा हूं।” उत्तर प्रदेश चुनाव को लेकर शुक्रवार को हुई रणनीतिक बैठक में प्रियंका तथा कांग्रेस के उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने हिस्सा लिया था।

यह पूछे जाने पर कि उत्तर प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए क्या उम्मीदवारों के चयन पर अंतिम फैसला करने के लिए कुछ हुआ है, उन्होंने कहा, “प्रक्रिया जारी है। जल्द ही हम उम्मीदवारों की सूची जारी करेंगे।” सिंह ने बिना कोई विस्तृत विवरण दिए कहा, “यदि कुछ भी घोषित करना आवश्यक हुआ तो हम इसे जरूर करेंगे।” उन्होंने यह भी कहा कि अगली रणनीतिक बैठक 22 नवंबर के बाद होगी।

कांग्रेस के चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर के भविष्य के बारे में पूछे जाने पर सिंह ने कुछ भी कहने से इनकार कर दिया और कहा कि इस पर पार्टी महासचिव व उत्तर प्रदेश में पार्टी के प्रभारी गुलाम नबी आजाद ही कुछ कह सकते हैं। प्रियंका गांधी ने अपने चुनाव प्रचार को अब तक अपनी मां तथा भाई राहुल गांधी (रायबरेली व अमेठी) तक ही सीमित रखा है।