विधायक फंड के दुरूपयोग को रोकने के लिए गाइडलाइंस बनाएं : सुप्रीम कोर्ट

यूपी में विधायक फंड पर सुप्रीम कोर्ट ने अहम फैसला सुनाया है। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि विधायक फंड के दुरूपयोग को रोकने के लिए 2 महीने में गाइड लाइंस बनाएं।

विधायक फंड के दुरूपयोग को रोकने के लिए गाइडलाइंस बनाएं : सुप्रीम कोर्ट

सुप्रीम कोर्ट ने यूपी में विधायक फंड पर अहम फैसला सुनाया है। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि विधायक फंड के दुरूपयोग को रोकने के लिए 2 महीने में गाइड लाइंस बनाई जाए और सलाना 2 करोड़ के विधायक फंड को रद्द किया जाए।

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने स्कीम की वैधानिकता को चुनौती देने वाली याचिका को खारिज कर दिया था, जिसके बाद मामला सुप्रीम कोर्ट में आया था।

वहीं सुप्रीम कोर्ट ने हाईकोर्ट के फैसले से सहमति जताई है लेकिन साथ ही यूपी सरकार से कहा है कि इसके लिए गाइडलाइंस को दोबारा बनाई जाए। कुछ सेफगार्ड हो जिससे फंड का सही उपयोग किया जा सके और सलाना 2 करोड़ के विधायक फंड को रद्द किया जाए।

सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस टीएस ठाकुर की अगुवाई वाली पीठ ने इस मामले में यूपी सरकार से कहा है कि वह कोर्ट के आदेश को अमल में लाए ताकि गाइडलाइंस सही मायने में काम कर सके।

कोर्ट ने आगे कहा है कि लोकतंत्र में चुने हुए प्रतिनिधियों का अहम रोल है। अपने क्षेत्र के विकास के लिए उनके रोल अहम हैं। संविधान का अनुच्छेद-243 डीजी उनके रोल को नहीं रोकता है।