बिहार राज्य के सभी काॅलेजाें आैर विश्वविद्यालयों में मुफ्त वाईफाई: नीतीश कुमार

नीतीश कुमार ने कहा कि राज्य के सभी कॉलेज और विश्वविद्यालयों में अगले वर्ष फरवरी से मुफ्त वाईफाई सुविधा होगी जिससे छात्रों को उनके अध्ययन आैर शाेध में मदद मिलेगी

बिहार राज्य के सभी काॅलेजाें आैर विश्वविद्यालयों में मुफ्त वाईफाई: नीतीश कुमार

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बीते शुक्रवार को कहा कि राज्य के सभी कॉलेज और विश्वविद्यालयों में अगले वर्ष फरवरी से मुफ्त वाईफाई सुविधा होगी जिससे छात्रों को उनके अध्ययन आैर शाेध में मदद मिलेगी। मीडिया से मिल रही जानकारी के मुताबिक कुमार ने यह बात अपनी ‘निश्चय यात्रा’ के दूसरे चरण की समाप्ति पर समस्तीपुर में एक चेतना सभा को संबोधित करते हुए कही। बता दें कि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पूरे बिहार राज्य में निश्चय यात्रा कर जनता काे संबाेधित कर जनता काे बिहार सरकार की याेजनाआें के विषय पर बात करने का फैसला किया है।

वहीं पर मुख्यमंत्री कुमार ने राज्य के सभी कॉलेज एवं विश्वविद्यालयों में मुफ्त वाईफाई सुविधा की घोषणा करते हुए युवाओं से कहा कि वे इस सुविधा का इस्तेमाल अध्ययन के लिए करें और किसी अन्य कार्य के लिए नहीं। कुमार मद्यनिषेध पर लोगों की राय लेने और सात संकल्पों के क्रियान्वयन के लिए आधार तैयार करने के लिए राज्य के विभिन्न हिस्सों में चरणों में निश्चय यात्रा कर रहे हैं। इन सात संकल्पों को महागठबंधन मंत्रालय ने एक ‘सुशासन की नीति’ के लिए मंजूर किया है।

कुमार ने अपनी बात काे आगे रखते हुए कहा कि उनकी सरकार युवाओं के समग्र व्यक्तित्व विकास को शीर्ष प्राथमिकता दे रही है और सात संकल्पों के कई तत्वों का जोर उन पर है। उन्होंने कहा कि सरकार ने 12वीं के बाद उच्च शिक्षा के लिए छात्रों को ब्याज मुक्त ऋण मुहैया कराने के लिए एक योजना शुरू की है। इसके साथ ही नौकरी की तलाश के लिए दो वर्ष के लिए एक हजार रुपये मासिक भत्ता और युवा उद्यमियों को प्रोत्साहित करने के लिए पांच हजार करोड़ रुपये की उद्यम पूंजी भी मुहैया करायी गई है।

कुमार ने आगे कहा कि राज्य के युवाओं को अंग्रेजी बोलना सिखाना और कम्प्यूटर सिखाना पाठ्यक्रम का भी एक हिस्सा है। इससे उनके व्यक्तित्व का विकास होगा और उन्हें नौकरी मिलने की संभावना भी बढ़ेगी। समस्तीपुर समाजवादी नेता एवं पूर्व मुख्यमंत्री कर्पूरी ठाकुर का पैतृक स्थान है, मुख्यमंत्री कुमार ने राज्य में मद्यनिषेध लागू करने को लेकर उनके नाम का उल्लेख किया। उन्होंने कहा, ‘हम कर्पूरी ठाकुर का अनुसरण करने वाले लोग हैं और मद्यनिषेध के जरिये हम उनके अधूरे कार्य को आगे बढ़ा रहे हैं।’