झारखंड: पुलिस आैर सीआरपीएफ के साथ इनकाउंटर में 6 माआेवादी ढ़ेर

झारखंड के लातेहार जिले में यहां के बूढ़ा पहाड़ पर सर्च ऑपरेशन में निकली पुलिस और सीआरपीएफ की माआेवादियाे के साथ बुधवार की सुबह मुठभेड़ होने की खबर आ रही है। बताया जा रहा है कि इस मुठभेड़ में पुलिस ने 6 हार्डकोर माआेवादियाें को मार गिराया है।

झारखंड: पुलिस आैर सीआरपीएफ के साथ इनकाउंटर में 6 माआेवादी ढ़ेर

झारखंड के लातेहार जिले में यहां के बूढ़ा पहाड़ पर सर्च ऑपरेशन में निकली पुलिस और सीआरपीएफ की  माआेवादियाे के साथ बुधवार की सुबह मुठभेड़ होने की खबर आ रही है। बताया जा रहा है कि इस मुठभेड़ में पुलिस ने 6 हार्डकोर माआेवादियाें को मार गिराया है। मारे गए माआेवादियाें के पास से भारी मात्रा में हथियार जब्त किए गए हैं। इस मुठभेड़ में दाेनाें तरफ से घंटाें चली गाेलियां.... 


लातेहार के एसपी अनूप बिरथरे ने मीडिया काे बताया कि माआेवादियाें से पुलिस और कोबरा 209 के जवानों की सर्च आॅपरेशन के दाैरान मुठभेड़ हुई। दोनों आेर से घंटों तक गोलियां चली। पुलिस और कोबरा को भारी पड़ता देख माआेवादी पीछे हटते हुए भाग गए। लातेहार एसपी ने बताया की माआेवादियाें के खिलाफ यह बड़ी कामयाबी है और इलाके में सर्च ऑपरेशन जारी है। सभी माआेवादियाें के शव बरामद कर लिए गए हैं। वहीं पर मारे गए माआेवादियाें के पास से एक इंसास राइफल, एक एसएलआर राइफल, एक कारबाइन और गोलियां बरामद की गई हैं। इसमें पुलिस से लूटे हुए हथियार भी शामिल हैं।


एसपी ने आगे बताया कि छिपादोहर थाना क्षेत्र स्थित कोयल नदी के किनारे थाने से लगभग 25 किलोमीटर की दूरी पर यह इनकाउंटर हुआ। यह इलाका अपने भौगोलिक कारणों से माओवादियों का सुरक्षित गढ़ माना जाता है। यहां सुरक्षा बलों तक का पहुंचना मुश्किल होता है। इस इलाके में माओवादियों के सेंट्रल कमेटी के दो मेंबर अरविंद और सुधाकर मौजूद हैं। सुरक्षा बलों ने पहली बार माओवादियों को उसके सुरक्षित गढ़ माने जाने वाले इलाके में घुस कर मारा है।


इसलिए यह पुलिस के लिए बड़ी सफलता है। एसपी ने बताया कि माओवादियों के इस दस्ते में 20-25 माओवादी थे। सुरक्षा बलों की गोलियों से कई घायल भी हुए हैं। घायल माआेवादी और दस्ते के अन्य सदस्य घने जंगलों का फायदा उठा कर भाग निकले हैं। हालांकि सुरक्षा बलों का सर्च ऑपरेशन इलाके में जारी है।


मारे गए माआेवादियाें की पहचान अभी तक नहीं हो पाई है। लेकिन इन सब के पास से बरामद हथियार काे देखकर पुलिस को इनके बड़े माआेवादी होने की आशंका है।