LIC ने दी अपने ग्राहकों को ये बड़ी राहत

एलआईसी ने कहा कि नोटबंदी के चलते आए नकद संकट को देखते हुए पॉलिसी की रिन्युअल अवधि का वक्त बढ़ा दिया गया है...

LIC ने दी अपने ग्राहकों को ये बड़ी राहत

सरकार के 500 और 1000 के नोट बंद करने के चलते भारतीय जीवन बीमा निगम ने अपने ग्राहकों को बड़ी राहत दी है। एलआईसी ने कहा कि नोटबंदी के चलते आए नकद संकट को देखते हुए पॉलिसी की रिन्युअल अवधि का वक्त बढ़ा दिया गया है।

बता दें कि एलआईसी ने एक बयान जारी करते हुए कहा है कि हमारे पॉलिसीधारकों को नोटबैन के चलते पॉलिसी रिन्यू के लिए प्रीमियम भुगतान में दिक्कत ना हो इसके लिए विशेष राहत दी गई है। एलआईसी के अनुसार जिन पॉलिसीज़ का ग्रेस पीरियड 9 से 30 नवंबर के बीच पूरा हो रहा है। वो बिना पेनेल्टी के 30 नवंबर तक प्रीमियम जमा करवा सकते हैं । एलआईसी की ओर से न केवल पेनेल्टी की राहत दी गई है बल्कि हेल्थ, मेडिकल रिपोर्ट जैसे कागज़ो को भी  अवश्कता मुक्त कर आय दिया गया है। बता दें कि नोटबंदी के चलते रेलवे अस्पताल और अन्य संस्थाएं लोगों के लिए राहत के कदम उठा रहे है।

इसी बीच आयकर विभाग ने डाकघर और बैंकों से कहा है कि 50 हजार से ज्यादा रकम एक दिन में जमा करने वालों की जानकारी अनिवार्य रूप से दें । अगर कोई व्यक्ति रोज़ाना इस तरह की रकम जमा कराता है  तो उसकी भी पूरी जानकारी आयकर विभाग को देनी होगी। बैंकों और डाकघरों को इस तरह की जानकारी 31 जनवरी 2017 तक आयकर विभाग को देनी होगी। इससे पहले आयकर विभाग को इस तरह की जानकारी तब दी जाती थी जब एक खाते में 10 लाख से ज्यादा की रकम एक वित्त साल में जमा होती थी।