‘बैंक लूटने’ वाले NCP सांसद के बयान को शिवसेना का समर्थन

नोटबंदी को लेकर NCP सांसद के ‘बैंक लूटने’ वाले बयान को शिवसेना ने किया समर्थन, कहा- 'देश के लोगों में भरा है गुस्सा'

‘बैंक लूटने’ वाले NCP सांसद के बयान को शिवसेना का समर्थन

शिवसेना ने सोमवार को एनसीपी सांसद उदयनराजे भोसले की चेतावनी का समर्थन किया है जिसमें भोसले ने कहा था कि यदि नोटबंदी के बाद स्थिति में जल्द सुधार नहीं हुआ तो लोग बैंकों को लूट लेंगे।

शिवसेना ने अपने मुखपत्र सामना के संपादकीय में लिखा कि “नोटबंदी ने देश के लोगों में गुस्सा भर दिया है। देश के गरीब और मजदूर तबके के लोगों की स्थिति दयनीय है।” छत्रपति शिवाजी के 13वें वंशज उदयनराजे के बैंक लूटने वाले बयान का जिक्र करते हुए इसमें कहा गया कि उदयनराजे ने लोगों के गुस्से को जाहिर किया है और मोदी सरकार के समक्ष चुनौती पेश की है।

शिवसेना ने ग्रामीण व सहकारी बैंकों पर लगे कुछ प्रतिबंध और पैसे की किल्लत के चलते गांव के लोगों की स्थिति पर भी ध्यान आकर्षित किया और कहा कि किसानों की असामयिक मौत हो रही है। अगर वो बैंक लूटना भी चाहें तो उन्हें कुछ हाथ नहीं लगेगा क्योंकि सहकारी बैंक खुद पैसे की किल्लत से गुजर रहे हैं। इसके विपरीत, सरकार किसानों को इस हरकत के लिए फांसी पर लटका देगी और छुटकारा पा लेगी।

शिवसेना ने आगे कहा कि भोसले ने लोगों के गुस्से को अपने रूप से बयां किया है। भोसले ने सवाल उठाए कि आम लोग लगातार क्यों सहते रहेंगे, जबकि कालेधन रखने वालों पर कोई कार्रवाई नहीं की जाएगी।

गौरतलब है कि शिवसेना केंद्र और महाराष्ट्र में सत्तारूढ़ एनडीए सरकार में शामिल है। शिवसेना ने उदयनराजे भोसले को उनके बयान के लिए शाबासी भी दी और कहा कि NCP सांसद होते हुए ऐसा बयान देना उनकी स्वतंत्र विचारों को दर्शाता है।