नोटबंदी का आज 17वां दिन, संसद में हंगामा

नोटबंदी को लेकर संसद में हंगामा थमने का नाम नहीं ले रहा है। नोटबंदी का आज 17वां दिन है और संसद में हंगामा जारी है।

नोटबंदी का आज 17वां दिन, संसद में हंगामा

नोटबंदी को लेकर संसद में हंगामा थमने का नाम नहीं ले रहा है। नोटबंदी का आज 17वां दिन है और संसद में हंगामा जारी है। सभी विपक्षी दलों का कहना है कि नोटबंदी से  जनता को काफी परेशानी हो रही है। विपक्ष इस फैसले को वापस लेने की मांग पर अड़ा है।

वहीं गुरुवार सुबह जब राज्यसभा की कार्यवाही शुरू हुई तो बिना क्रम पूर्व पीएम मनमोहन सिंह के बोलने को लेकर विपक्षी दलों ने हंगामा किया। मनमोहन को स्पीकर ने बोलने की मंजूरी दे दी थी, लेकिन वित्त मंत्री अरुण जेटली ने उन्हें बीच में ही रोक दिया और बाद में उन्होंने नोटबंदी पर अपनी राय रखी।

पूर्व पीएम मनमोहन सिंह ने कहा कि वह नोटबंदी के खिलाफ नहीं हैं, लेकिन सरकार ने इस फैसले को लागू करने का तरीका सही नहीं है। नोटबंदी के बाद से जीडीपी में 2 फीसदी की गिरावट आई है। अब तक 65 लोगों की नोटबंदी की वजह से मौत हो चुकी है जो पीड़ादायक है।

वहीं गुरुवार को लोकसभा में नोटबंदी को लेकर जमकर हंगामा हुआ था। समाजवादी पार्टी सांसद अक्षय यादव ने स्पीकर सुमित्रा महाजन की ओर पेपर भी उछाल दिया था। स्पीकर ने इसे सांसद का अमर्यादित व्यवहार करार दिया। समाजवादी पार्टी सांसद अक्षय यादव ने सफाई देते हुए कहा था कि वह नए-नए सांसद बने हैं। अपने व्यवहार के लिए वह खुद स्पीकर से मिलकर उनसे माफी मांग लेंगे।

पीएम मोदी ने गुरुवार रात को कैबिनेट मीटिंग की। इस मीटिंग में कैशलेस इकॉनामी पर चर्चा हुई। इसके साथ ही ई-बैंकिंग को बढ़ावा देने पर भी जोर दिया गया। इसके अलावा 500-1000 रुपये के नोट बंद किए जाने से संसद में हो रहे विवाद और लोगों की हो रही परेशानियों पर भी मंत्रियों ने चर्चा की है।