नोटबंदी से टूटा दहेज का सपना, युवक ने तोड़ी शादी

नोटबंदी की वजह से एक लड़की की शादी बारात आने के दो दिन पहले ही टूट गई क्योंकि दहेज कम मिलने के डर से लड़का पक्ष ने शादी तोड़ दी।

नोटबंदी से टूटा दहेज का सपना, युवक ने तोड़ी शादी



नोटबंदी की वजह से एक लड़की की शादी बारात आने के दो दिन पहले ही टूट गई। बता दें कि नोटबंदी के कारण दहेज कम मिलने के डर से लड़का पक्ष ने शादी तोड़ दी।

मीडिया में आ रही खबरों के मुताबिक नोएडा की रहने वाली 22 वर्षीय शिखा के परिजनों को शादी के दो दिन पहले उसके मंगेतर के परिवार वालों ने बुलाया। उन्होंने कहा कि दहेज की कमी के कारण वे इस शादी को तोड़ रहे हैं।

वहीं कुणाल और शिखा की सगाई आठ महीने पहले हुई थी, लेकिन नोटबंदी होने के कारण हुई रुपयों की परेशानी ने इस रिश्ते को तोड़ दिया। उनकी शादी 25 नवंबर को होने वाली थी।

लड़की के चाचा तिलक राज सिंह ने बताया है कि लड़के के परिजन महंगी कार, हीरे की ज्वैलरी और कैश की मांग कर रहे थे। 500-1000 रुपए के नोट बंद हो जाने के बाद में हम नकदी नहीं निकाल पा रहे थे और हम उनकी मांगों को पूरा नहीं कर सके।