नाेटबंदी के फैसले पर विपक्ष संसद परिसर में धरना देगा

कांग्रेस नेता ज्याेतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि नाेटबंदी के खिलाफ बुधवार सुबह संसद भवन में धरना देने का एलान किया है

नाेटबंदी के फैसले पर विपक्ष संसद परिसर में धरना देगा

500और 1000 के नोटाें काे बंद करने के सरकार के इस फैसले से लोगों को होने वाली परेशानी के मुद्दे पर विपक्ष आज संसद भवन परिसर में धरना देगा। विपक्ष ने इस मुद्दे पर कड़ा रुख अपनाते हुए राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी से मुलाकात करने और सड़कों पर उतरने का फैसला किया है।

विपक्षी दलों की बैठक के बाद कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने मीडिया से कहा कि नोटबंदी के खिलाफ बुधवार सुबह संसद भवन में धरना दिया जाएगा। महात्मा गांधी की प्रतिमा के सामने होने वाले इस धरने में कांग्रेस, तृणमूल, लेफ्ट और जद(यू) शामिल होंगे।

बीते मंगलवार काे हुए बैठक में यह भी तय किया गया है कि इस मुद्दे पर राष्ट्रपति से मुलाकात की जाएगी। सिंधिया ने आगे बताया कि राष्ट्रपति से मुलाकात की तारीख अभी तय नहीं की गई है, लेकिन सभी दलों से चर्चा के बाद इस पर फैसला किया जाएगा। धरने में नोटबंदी के दौरान लोगों को होने वाली परेशानियों, मौतों और किसानों की दिक्कतों का मुद्दा उठाया जाएगा। जद(यू) का कहना है कि धरने में सपा-बसपा सहित सभी विपक्षी दल आएंगे।

बताया जा रहा है कि इस नोटबंदी की सूचना कथित तौर पर पहले से लीक होने की जांच संयुक्त संसदीय समिति (जेपीसी) से कराने की मांग भी विपक्षी दलों ने की है। सीपीएम नेता मोहम्मद सलीम ने कहा कि एजेंडे में सड़कों पर प्रदर्शन के अलावा जेपीसी गठन की मांग भी शामिल है। इसके अलावा सदन में इस पर बहस के दौरान प्रधानमंत्री के उपस्थित रहने की भी मांग की जाएगी।