संसद: विपक्षी दलों ने की पीएम मोदी से माफी की मांग

केंद्र सरकार के नोटबंदी के फैसले के बाद से संसद के शीतकालीन सत्र का सोमवार को नौवां दिन है और संसद के शीतकालीन सत्र में नोटबंदी का विरोध लगातार हो रहा है। वहीं आज संसद में विपक्षी पार्टियों ने कार्यवाही से पहले बैठक बुलाई और पीएम नरेंद्र मोदी से उनकी टिप्पणी को लेकर माफी की मांग की है।

संसद: विपक्षी दलों ने की पीएम मोदी से माफी की मांग

केंद्र सरकार के नोटबंदी के फैसले के बाद से संसद के शीतकालीन सत्र का सोमवार को नौवां दिन है और संसद के शीतकालीन सत्र में नोटबंदी का विरोध लगातार हो रहा है। वहीं सोमवार को कांग्रेस के नेतृत्व में विपक्षी दलों ने नोटबंदी के खिलाफ देशव्यापी विरोध प्रदर्शन का आह्वान किया है। इसे “जन आक्रोश दिवस” का नाम दिया गया है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक संसद में विपक्षी पार्टियों ने कार्यवाही से पहले बैठक बुलाई और पीएम नरेंद्र मोदी से उनकी टिप्पणी को लेकर माफी की मांग की है।

बता दें कि शुक्रवार को भी नोटबंदी और पीएम मोदी की टिप्पणी को लेकर हंगामा हुआ था। पीएम की काले धन को लेकर की गई टिप्पणी पर नाराज विपक्ष दलों ने शुक्रवार (25 नवंबर) को राज्यसभा में हंगामा किया  था और पीएम मोदी से माफी की मांग की थी। वहीं कांग्रेस,बीएसपी और तृणमूल कांग्रेस के सदस्यों ने आसन के सामने आकर नारेबाजी की थी। यह हंगामा पीएम मोदी द्वारा दिल्ली में हुए एक कार्यक्रम पर विपक्ष पर साधे गए निशाने को लेकर था। पीएम मोदी ने कहा था कि वास्तव में ऐसे लोगों को इस बात की पीड़ा है कि उन्हें खुद किसी तरह की तैयारी का समय नहीं मिला। उन्होंने कहा था कि अगर इन लोगों को 72 घंटे का वक्त मिल जाता तो वे प्रशंसा करते।