पठानकोट हमला: गृह मंत्रालय ने दी आतंकी मसूद अज़हर के खिलाफ चार्जशीट को हरी झंडी

भारत के पठानकोट एयरबेस पर हमले के आरोपी जैश सरगना मसूद अज़हर समेत तीन अन्य आतंकियों के खिलाफ गृह मंत्रालय ने राष्ट्रीय जांच एजेंसी को आरोप पत्र दाखिल करने को लेकर रही झंडी दे दी है।

पठानकोट हमला: गृह मंत्रालय ने दी आतंकी मसूद अज़हर के खिलाफ चार्जशीट को हरी झंडी

भारत के पठानकोट एयरबेस पर हमले के आरोपी जैश सरगना मसूद अज़हर के खिलाफ चार्जशीट का रास्ता साफ हो गया है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक गृह मंत्रालय ने राष्ट्रीय जांच एजेंसी को मसूद समेत तीन अन्य आतंकियों के खिलाफ आरोप पत्र दाखिल करने को लेकर रही झंडी दे दी है।

बता दें कि चार्जशीट होने के बाद मसूद को अंतरराष्ट्रीय आतंकी घोषित करने का भारत का दावा मजबूत होगा। वहीं फिलहाल चीन के वीटो के कारण यूएन संघ मसूद अज़हर को अंतरराष्ट्रीय आतंकी नहीं घोषित कर पा रहा है।

गृह मंत्रालय के मुताबिक गैरकानूनी गतिविधि रोकथाम कानून और भारतीय दंड संहिता की विभिन्न धाराओं के तहत चार्जशीट की अनुमति दी गई है। इसके साथ ही मसूद के साथ ही उसके भाई अब्दुल राऊफ और अन्य आतंकियों शाहिद लतीफ और कासिफ को भी हमले की साजिश में आरोपी बनाया गया है।

वहीं एनआइए के पास मौजूद सुबूतों के अनुसार हमले की योजना मसूद अज़हर और अब्दुल राऊफ ने बनाई थी। शाहिद लतीफ और कासिफ हमला करने वाले आतंकियों को निर्देश दे रहा था। ये सभी जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी हैं। उनका मकसद एयरबेस में अधिक से अधिक वायुसेना के जवानों की हत्या करना और लड़ाकू जहाजों को नुकसान पहुंचाना था।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा है कि मसूद अज़हर के खिलाफ चार्जशीट होने के बाद उसे अंतरराष्ट्रीय आतंकी घोषित करने के भारत के दावे को मजबूती  मिलेगी। भारत पठानकोट हमले के बाद से ही यूएन संघ से मसूद को अंतरराष्ट्रीय आतंकी घोषित कराने की कोशिश कर रहा है।