इस डर से नोएडा नहीं आते हैं अखिलेश...

जो भी यूपी की सत्ता पर काबिज होता है उसे नोएडा से बड़ा डर लगता है...

इस डर से नोएडा नहीं आते हैं अखिलेश...

उत्तर प्रदेश में जो कोई भी मुख्यमंत्री बनता है उसके मन में हमेशा यह डर बैठ जाता है कि नोएडा का दौरा करने से कुर्सी छिन सकती है। या यूं कहें कि नोएडा का जिक्र होते ही सत्ताधारियों को कुर्सी छिनने का डर सताने लगता है। फिर चाहे वो मुलायम सिंह यादव हों या राजनाथ सिंह या फिर कोई और, सभी को नोएडा से डर लगता रहा है। खबरें आ रही हैं कि इसीलिए यूपी के वर्तमान मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने भी नोएडा न जाने का फैसला लिया है।

आपको बता दें कि 30 नवंबर को बाबा रामदेव के फूड पार्क का शिलान्यास होना है और अखिलेश यादव फूड पार्क का शिलान्यास लखनऊ में ही करेंगे। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार कुर्सी छिन जाने के डर के कारण ही दादरीकांड के बाद उत्तर प्रदेश के मुखिया अखिलेश यादव ने अखलाक के परिवार से उनके घर में न मिलकर अपने लखनऊ आवास में ही मिलने का फैसला लिया।

आपको बता दें राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी तीन बार नोएडा आए, लेकिन प्रोटोकॉल की मजबूरी को भी नजरअंदाज कर अखिलेश यादव एक बार भी नोएडा नहीं गए। अखिलेश यादव के घर शादी समारोह में पहुंचने वाले प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के दो दौरे नोएडा में हुए, फिर भी अखिलेश यादव ने कलेजे पर पत्थर रख लिया लेकिन वो नोएडा नहीं गए। इन सबके पीछे भी यही वजह मानी जा रही है कि नोएडा जाने वाले मुख्यमंत्री तुरंत ही सत्ता गंवा देते हैं।