यूपी: अखिलेश सरकार ने 2 दर्जन प्रस्तावों को दी मंजूरी

सीएम अखिलेश यादव की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट बैठक में करीब 2 दर्जन प्रस्तावों पर मुहर लगी।

यूपी: अखिलेश सरकार ने 2 दर्जन प्रस्तावों को दी मंजूरी

सीएम अखिलेश यादव की शुक्रवार को नए लोकभवन में होने वाली कैबिनेट बैठक खत्म हो गई है। इस कैबिनेट बैठक को चुनाव के मद्देनजर काफी अहम माना जा रहा था। वहीं सीएम अखिलेश यादव की अध्यक्षता में हुई इस कैबिनेट बैठक में करीब 2 दर्जन प्रस्तावों पर मुहर लग गई है।

वहीं अखिलेश सरकार ने प्रदेश के गन्ना किसानों को चुनाव से पहले ही चुनावी तोहफा देते हुए गन्ना समर्थन मूल्य 25 रुपये प्रति क्विंटल बढ़ा दिया है। अब गन्ना किसानों को समान्य के लिए 305 रुपये प्रतिकिलो के हिसाब से गन्ना मूल्य दिया जाएगा।

बता दें कि काफी लंबे समय के बाद गन्ना समर्थन मूल्य में बढ़ोतरी की गई है। इससे पहले  साल 2012 में गन्ना समर्थन मूल्य तय किया गया था। किसानों को अब सामान्य प्रजाति के गन्ने पर 305 और अगैती पर 315 रुपये प्रति क्विंटल के हिसाब से भुगतान होगा। अभी सामान्य 280 व अगैती 290 रुपये प्रति क्विंटल के हिसाब से भुगतान हो रहा है।

इस बैठक के बाद मीडिया से बातचीत के दौरान सीएम अखिलेश यादव ने कहा कि राज्य सरकार गन्ना किसानों के हित का पूरा ध्यान रखेगी। गन्ना किसानों को एक मुश्त भुगतान की व्यवस्था भी की गई है।

इन प्रस्तावों पर लगी मुहर
1. प्रदेश सरकार ग्राम प्रधानों के अधिकार बढ़ाने के साथ ही उनका मानदेय बढ़ा दिया गया है। प्रधानों का मानदेय 2500 रुपये से 3500 रुपये प्रतिमाह कर दिया गया है।

2. लेखपालों को लैपटॉप और स्मार्टफोन देना का प्रस्ताव कैबिनेट मीटिंग में पास हो गया है।

3. 170 नेशनल मोबाइल मेडिकल यूनिट परियोजना के संचालन के मसौदे को भी मंजूरी दी गई।

4. इटावा में सीएम के पैतृक गांव सैफई में संगीत महाविद्यालय की होगी स्थापना।

5. हरदोई के संडीला क्षेत्र में 400 करोड़ रुपये के  निवेश प्रस्ताव को मिली हरी झंडी साथ ही पेप्सी के बॉटलिंग प्लांट की स्थापना को मेगा इकाई स्थापित करने के मसौदे पर मुहर लगी।