अमेरिका ने सीरिया के 13 लोगों पर लगाया आरोप, कहा- हमले और परेशानी देते हैं

अमेरिका ने सीरिया के 13 लोगों पर आरोप लगाया है कि ये लोग हमले करते हैं और लोगों को परेशान करते हैं...

अमेरिका ने सीरिया के 13 लोगों पर लगाया आरोप, कहा- हमले और परेशानी देते हैं

अमेरिका और सीरिया के बीच रिश्तों में दरार देखने को मिल ही जाती है। इस बार भी अमेरिका ने सीरिया के 13 कमांडरों पर आरोप लगाया है कि वो कारावास अधिकारियों, आवासीय क्षेत्रों और असैन्य सरंचाओं पर हमले करते हैं। अमेरिकी राजदूत समांथा पावर ने सुरक्षा परिषदों की एक बैठक बुलाकर सभी आरोपियों के नामों का खुलासा किया। साथ ही कहा कि अंतराष्ट्रीय सब कुछ देख रहा है और एक दिन उन्हें जवाब भी दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि इन बड़े आरोपों का मतलब आने वाले युद्ध में अपराधों के मुकदमें पैदा करना है। उनका कहना है कि इसे ओबामा प्रशासन द्वारा आखिरी वक्त में सीरिया सरकार को अत्याचारों के लिए जिम्मेदार ठहराने की कोशिश के तौर पर भी देखा जा सकता है।

बता दें कि पावर ने सीरिया के राष्ट्रपति बशर असद के शासन और उनके करीबी साथी रूस पर विद्रोहियों के कब्जे वाले पूर्वी अलेप्पो के लिए ‘‘भूखे मरो, बम से मरो या आत्मसमर्पण करो’’ की रणनीति अपनाने का आरोप लगाया और कहा कि यह ऐसा अकेला या नया मामला नहीं है। जिसमें ऐसा हो रहा है। इससे पहले भी ऐसे कई मामले सामने आ चुके हैं।

उन्होंने कहा कि पूरे सीरिया में रूस और असद शासन ने घेराबंदी करने, मानवीय सहायता को रोकने, नागरिक इलाकों में अंधाधुंध बमबारी और बैरल बम डालने का अभियान छेड़ रखा है। उन्होंने कहा कि अमेरिका जानता है कि यातनाएं कथित तौर पर कहां दी जाती हैं और इसका निशाना कौन है। साथ ही उन्होंने ऐसे चार सैन्य खुफिया स्थानों के नाम भी बताए। जहां से इस तरह की यातनाओं को अंजाम दिया जाता है।