अरुणाचल: रिजिजू के समर्थन में उतरे कांग्रेस नेता, कहा- भ्रष्टाचार के आरोप झूठे

अरुणाचल प्रदेश के नीपको हाईड्रो पावर प्रोजेक्ट के लिए बनने वाले दो डैम में 450 करोड़ रुपए के घोटाले को लेकर केंद्रीय गृह राज्य मंत्री किरण रिजिजू विवादों में है। इस मामले को लेकर जहां एक तरफ विपक्षी दल उन पर लगातार हमला कर रहा है, तो वहीं दूसरी तरफ अरुणाचल के कांग्रेसी नेता रिजिजू के समर्थन में उतरे हैं।

अरुणाचल: रिजिजू के समर्थन में उतरे कांग्रेस नेता, कहा- भ्रष्टाचार के आरोप झूठे

अरुणाचल प्रदेश के नीपको हाईड्रो पावर प्रोजेक्ट के लिए बनने वाले दो डैम में 450 करोड़ रुपए के घोटाले को लेकर केंद्रीय गृह राज्य मंत्री किरण रिजिजू विवादों में है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक इसे लेकर जहां एक तरफ विपक्षी दल उन पर लगातार हमला कर रहा है, तो वहीं दूसरी तरफ अरुणाचल के कांग्रेसी नेता रिजिजू के समर्थन में उतरे हैं। इससे विपक्ष के हमलों से घिरी केंद्र की मोदी सरकार को बड़ी राहत मिलने के आसार लगाए जा रहे हैं।

बता दें कि पिछले दो दिनों से कांग्रेस पार्टी संसद में रिजिजू के इस्तीफे की मांग कर रही है, लेकिन अब अरुणाचल के कई कांग्रेसी नेताओं ने पत्र लिखकर परियोजना में हुए घोटालों के आरोपों को गलत ठहराया हैं। मीडिया में आ रही खबरों के मुताबिक उनका कहना है कि परियोजना में आ रही वित्तीय दिक्कतों के कारण उन्हीं लोगों ने रिजिजू से अनुरोध कर जल्द काम कराने को कहा था।

वहीं प्रदेश में नाफरा, बिचुम और सिगचुंग पंचायतों के तीन पदाधिकारियों ने हस्ताक्षर कर कहा कि केमांग जल विद्युत परियोजना में घोटाले के आरोपों से उन्हें दुख पहुंचा है। बता दें कि पंचायतों ने ठेकेदार के पास लंबित उचित राशि दिलाने के लिए स्थानीय सांसद रिजिजू से हस्तक्षेप की मांग की थी, क्योंकि परियोजना से संबंधित ठेकेदार सेवाओं के बदले भुगतान नहीं कर रहा था।