बाबा रामदेव के पतंजलि पर 11 लाख का जुर्माना

योग गुरू बाबा रामदेव की कंपनी 'पतंजलि आयुर्वेद लिमिटेड' को कोर्ट ने प्रोडक्ट्स की ब्रांडिंग और प्रचार के मामले में फर्जीवाड़ा करने का दोषी पाया है। इसके साथ ही कोर्ट ने बाबा रामदेव की कंपनी पतंजलि आयुर्वेद लिमिटेड पर 11 लाख रुपए का जुर्माना भी लगाया है।

बाबा रामदेव के पतंजलि पर 11 लाख का जुर्माना

योग गुरू बाबा रामदेव की कंपनी 'पतंजलि आयुर्वेद लिमिटेड' एक बार फिर विवादों के घेरे में है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक पतंजलि आयुर्वेद लिमिटेड को कोर्ट ने प्रोडक्ट्स की ब्रांडिंग और प्रचार के मामले में फर्जीवाड़ा करने का दोषी पाया है। इसके साथ ही कोर्ट ने बाबा रामदेव की कंपनी पतंजलि आयुर्वेद लिमिटेड पर 11 लाख रुपए का जुर्माना भी लगाया है।

मीडिया में आ रही खबरोें के मुताबिक हरिद्वार में एडीएम एलएन मिश्रा की अदालत ने पतंजलि को पांच प्रोडक्ट्स की फर्जी ब्रांडिंग करने का दोषी पाया है। इसके साथ ही पतंजलि को 11 लाख जुर्माना चुकाने का आदेश भी दिया है।

बता दें कि कोर्ट ने सरसों की गलत ब्रांडिंग करने पर 2.5 लाख, नमक के लिए 2.5 लाख, पाइन एप्पल जैम के लिए 2.5 लाख, बेसन के लिए 1.5 लाख और शहद को पतंजलि का बताकर बेचने के लिए 2 लाख रुपए का जुर्माना लगाया है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक कोर्ट ने कहा है कि जांच में यह पाया गया है कि इन उत्पादों को पतंजलि ने नहीं बनाया था।

वहीं खाद्य सुरक्षा अधिकारी योगेंद्र पांडे ने बताया है कि हरिद्वार में 2012 में दिव्य योग मंदिर के पतंजलि स्टोर से सरसों तेल, नमक, बेसन, पाइन एप्पल जैम और शहद के सैंपल लिए गए थे। इन सैंपल्स की रुद्रपुर लेबोरेटरी में जांच की गई थी। पतंजलि के सैंपल टेस्ट में फेल हो गए। उस जांच रिपोर्ट के आधार पर एडीएम कोर्ट में केस दायर किया गया था और पतंजलि पर मिस ब्रांडिंग और गलत प्रचार का चार्ज लगाया गया था। यह केस चार साल तक चला।