चिटफंड घोटाले में सांसद तापस पाल को सीबीआई ने किया गिरफ्तार

लोकसभा सांसद और कांग्रेस नेता तापस पाल को केंद्रीय जांच एजेंसी सीबीआई की टीम ने रोजवैली चीटफंड घोटाले में कथित संलिप्तता के आरोप में गिरफ्तार कर लिया है...

चिटफंड घोटाले में सांसद तापस पाल को सीबीआई ने किया गिरफ्तार

लोकसभा सांसद और कांग्रेस नेता तापस पाल को केंद्रीय जांच एजेंसी सीबीआई की टीम ने रोजवैली चीटफंड घोटाले में कथित संलिप्तता के आरोप में गिरफ्तार कर लिया है।  27 दिसंबर को नोटिस मिलने के बाद पत्नी के साथ तापस पाल सीबीआई के सवालों का जवाब देने सॉल्टलेक स्थित सीजीओ कॉम्प्लेक्स सीबीआई के दफ्तर में पहुंचे थे। सीबीआई के एक वरिष्ठ अधिकारी का कहना है कि तापस पाल पर रोजवैली चिटफंड घोटाले में कथित संलिप्तता का आरोप है। वह रोजवैली चिटफंड कंपनी के फिल्म विभाग में निदेशक थे।

सीबीआई के सूत्रों के मुताबिक तापस से पूछा गया कि रोजवैली के फिल्म विभाग के दायित्व में रहने के लिए निदेशक गौतम कुंडू से उन्होंने कितने रुपये लिये और किस आधार पर लिये। तृणमूल सांसद से करीब चार घंटे तक पूछताछ कर इन सब सवालों के जवाब मांगे गये।  वह रोजवैली समूह की फिल्म डिवीजन कंपनी के निदेशक के रूप में नियुक्ति या बांग्ला फिल्म उद्योग में निवेश करनेवाली कंपनी से अपने संबंधों से जुड़े किसी भी सवाल का जवाब नहीं दे पाये।

गौरतलब है कि सीबीआई तापस पाल के खिलाफ पैसे लेने के सबूत भी पेश किए हैं। तापस पाल से जब पूछा गया कि उन्होंने रोजवैली से कितने पैसे नगद लिये हैं, तो उनका कहना था कि कुछ भी नहीं। इसके बाद सीबीअाई ने पैसे लेने के सबूत पेश किये, तब तापस पाल सीबीआई के सवालों का जवाब देने से लगातार इंकार करते गये। जांच में उनसे सही जवाब न मिलने के बाद सीबीआई ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया।

वहीं सीबीआई उन्हें पूछताछ के लिए भुवनेश्वर ले गयी है। सूत्रों की मानें तो तापस पाल ने जवाब के जरिये जांच अधिकारियों को भ्रमित करने की कोशिश की। उनके जवाब में कुछ विसंगतियां भी पायी गयी हैं। उनके स्वास्थ्य की जांच एक डॉक्टर से भी करायी गयी है। तापस को आज अदालत में पेश किया जायेगा।