दिल्ली: मेट्रो में पॉकेटमार महिला गिरोह की मदद करता हेड कांस्टेबल CCTV में कैद

दिल्ली मेट्रो में चोरी करने वाले महिला गिरोह की मदद करने के आरोप में पुलिस हेड कांस्टेबल सस्पेंड, मामले की जांच में जुटी पुलिस।

दिल्ली: मेट्रो में पॉकेटमार महिला गिरोह की मदद करता हेड कांस्टेबल CCTV में कैद

दिल्ली पुलिस का एक हेड कांस्टेबल मेट्रो में लोगों की जेब काटने वाली लड़कियों के समुह का हिस्सा था। सीसीटीवी फुटेज के आधार पर आरोपी को सस्पेंड कर दिया गया है।

सीसीवीटी के जरिए देखा जा सकता है कि जेबकाटने वाली महिलाओं का एक ग्रुप कुछ ‘अज्ञात वस्तु’ उस पुलिसवाले के हाथ में देता है जिसे वह छिपाकर रख लेता है। वह वीडियो चावड़ी बाजार मेट्रो स्टेशन की बताई जा रही है।

मीडिया रिपोर्टस के मुताबिक, 24 दिसंबर को सीसीटीवी फुटेज की मदद से यह बात सामने आई थी कि पुलिसवाले ने उन महिलाओं की मदद की। चोरी करने वाली महिलाओं का गैंग यूएस की एक महिला द्वारा रिपोर्ट दर्ज करवाने के बाद पकड़ा गया था। उस महिला ने रिपोर्ट की थी कि मेट्रो से वह गुड़गांव जा रही थी और उस दौरान उसकी जूलरी और कुछ कीमती सामान चोरी हो गया। बाद में पुलिस ने एक महिला की सेल्फी की मदद से उस गैंग को पकड़ लिया।

https://www.youtube.com/watch?v=9jacWuEBrrg

सेल्फी में दो महिलाओं का पता चला जिन्होंने चोरी की थी। बाद में पता चला कि 6 महिलाओं के गैंग ने उस चोरी की वारदात को अंजाम दिया था। उसी दिन की सीसीटीवी फुटेज में वे उस पुलिसवाले के साथ भी देखीं गई।

पुलिस ने अब जांच के आदेश दे दिए हैं। देखा जाएगा कि ऐसी और कितनी चोरियों को उन्होंने अंजाम दिया होगा।

जानकारी के मुताबिक, दिल्ली पुलिस के एक सीनियर अधिकारी ने बताया कि पुलिसवाले के चेहरा को फुटेज में साफ तौर पर नहीं दिखा है लेकिन उसे पहचान लिया गया। 6 महिलाओं के ग्रुप को 13 दिसंबर को पकड़ा गया था। उनके पास से लगभग 22 लाख रुपए बरामद किए गए थे।