हरियाणा: AGL प्लॉट आवंटन मामले की जांच करेगी सीबीआई

हरियाणा के पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा की एजीएल प्लॉट आवंटन मामले में मुश्किलें बढ़ सकती हैं। सीएम मनोहर लाल ने कहा कि एजीएल मामले की जांच सी.बी.आई. से करवाई जाएगी।

हरियाणा: AGL प्लॉट आवंटन मामले की जांच करेगी सीबीआई

हरियाणा के पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा की एजीएल प्लॉट आवंटन मामले में मुश्किलें बढ़ सकती हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक विजिलेंस की सिफारिश के बाद अब सीएम मनोहर लाल ने मामले की जांच सीबीआई से कराने की बात कही है।

मीडिया में आ रही खबरों के मुताबिक मनोहर लाल ने कहा कि एजीएल मामले की जांच सी.बी.आई. से करवाई जाएगी। हरियाणा के सीएम मनोहर लाल ने इसकी पुष्टि कर दी है। देश की सबसे बड़ी जांच एजेंसी सीबीआई अब इस मामले की जांच करेगी।

गौरतलब है कि भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने सीएम रहते हुए नेशनल हेराल्ड की प्रकाशक कंपनी एसोसिएट जनरल लिमिटेड (एजीएल) को पंचकूला में जमीन मुहैया करवाई गई थी।

बता दें कि जिस समय ये जमीन आवंटित हुई थी उस दौरान हुड्डा हरियाणा के सीएम के साथ ही हरियाणा विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष भी थे। उस समय सरकार की ओर से एजीएल को पंचकुला में कुछ ऐसी शर्तों पर जमीन आवंटित की गई जिसे लेकर विवाद है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक भूपेंद्र सिंह हुड्डा पर आरोप है कि उन्होंने पद का दुरुपयोग करते हुए 496 वर्ग मीटर के 14 औद्योगिक प्लॉट्स कौड़ियों के भाव आवंटित किए थे।

जिन लोगों को ये प्लॉट आवंटित किए गए थे उनमें रेनू हुड्डा, नंदिता हुड्डा और मनजोत कौर का नाम शामिल था, जो हुड्डा के रिश्तेदार बताए जाते हैं।

इससे पहले भी हुड्डा पर कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के दामाद रॉबर्ट वाड्रा को भी कौडिय़ों के भाव में जमीन आवंटित करने के आरोप लग चुके हैं जिसकी जांच हरियाणा सरकार एक आयोग से करा रही है।