HC से कोटा रद्द, गुर्जरों ने दिया आंदोलन की धमकी

राजस्थान हाई कोर्ट ने गुर्जर समेत 5 जातियों को विशेष पिछड़ा वर्ग कानून के तहत 5 फीसदी आरक्षण खारिज कर दिया है। इस फैसले के बाद प्रदेश में गूर्जरों ने सरकार को आनदोलन की धमकी दी है।

HC से कोटा रद्द, गुर्जरों ने दिया आंदोलन की धमकी

जयपुर : राजस्थान हाई कोर्ट ने गुर्जर समेत 5 जातियों को विशेष पिछड़ा वर्ग कानून के तहत दिया गया 5 फीसदी आरक्षण खारिज कर दिया है। इस बारे में 16 अक्टूबर 2015 का राज्य सरकार का नोटिफिकेशन कोर्ट ने रद्द कर दिया।

इस फैसले के बाद आंदोलन की तैयारी शुरू करते हुए  गुर्जर नेता किरोड़ी सिंह बैंसला ने कहा कि हम राज्य सरकार के खिलाफ फिर से लड़ाई शुरू करेंगे।

गौरतलब है हाई कोर्ट में दाखिल याचिका में कहा गया था कि संविधान के मुताबिक आरक्षण 50 पर्सेंट से ज्यादा नहीं हो सकता लेकिन इस नए कानून से आरक्षण इस सीमा को पार कर जाता है। राज्य सरकार ने पहली बार 2008 में विशेष पिछड़ा वर्ग की नई श्रेणी बनाते हुए 5 प्रतिशत आरक्षण दिया था।

वहीं इस कानून के बाद राज्य में आरक्षण की सीमा 49 प्रतिशत से बढ़कर 54 प्रतिशत हो गई थी। याचिका पर हाई कोर्ट ने सरकार की अधिसूचना को असंवैधानिक बताते हुए रद्द कर दिया।

मालूम हो, कोर्ट 2009 में भी 50 पर्सेंट की सीमा पार करने के कारण ऐसे आरक्षण कानून पर रोक लगा चुका था। गुर्जरों का आरक्षण आंदोलन कई बार हिंसक हो चुका है। काफी दिनों तक रेल यातायात भी प्रभावित रहा। 2006 के हिंसक आरक्षण आंदोलन में 70 से ज्यादा लोगों की जानें गई थीं।