हैदराबाद ब्लास्ट: यासिन भटकल समेत पांच को फांसी की सजा

हैदराबाद ब्लास्ट मामले में कोर्ट ने इंडियन मुजाहिद्दीन के आतंकी यासिन भटकल समेत पांच को मौत की सजा सुनाई।

हैदराबाद ब्लास्ट: यासिन भटकल समेत पांच को फांसी की सजा

हैदराबाद ब्लास्ट मामले में कोर्ट ने सोमवार को इंडियन मुजाहिद्दीन के आतंकी यासिन भटकल को मौत की सजा सुनाई गई। इसके साथ ही चार अन्य आतंकियों को भी मौत की सजा सुनाई गई है। इनमे यासीन के भाई रियाज भटकल भी शामिल है। हालांकि, रियाज भटकल अभी फरार है। सजा एनआईए की स्पेशल कोर्ट ने सुनाई है।

गौरतलब है कि साल 2013 में हैदराबाद में हुए बम धमाकों में पिछले हफ्ते एनआईए की स्पेशल कोर्ट ने यासीन भटकल और तहसीन अख्तर उर्फ मोनू को दोषी करार दिया था। कोर्ट ने इस मामले में भटकल और तहसीन के अलावा पांच अन्य लोगों को कसूरवार ठहराया है। ऐसा पहली बार हुआ है जब इंडियन मुजाहिद्दीन के आतंकियों को सजा सुनाई गई है। एनआईए ने इन बम धमाकों में अपनी जांच के दौरान पांच लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया था।

एनआईए के मुताबिक रियाज नाम का आतंकी अभी भी फरार है। रियाज की नेपाल या पाकिस्तान में होने की संभावना जताई जा रही है। वहीं, हैदराबाद में हुए बम धमाकों के लिए तो भटकल और तहसीन को सजा मिल जाएगी लेकिन पटना ब्लास्ट के मामले चार्जशीट का अभी इतंजार है। हैदराबाद और पटना धमाकों में 6 महीनों का अतंर था।

उल्लेखनीय है कि हैरादाबाद में 21 फरवरी 2013 को दिससुखनगर इलाके में आतंकियों ने धमाके किए थे। इन धमकों में 18 लोगों की मौत हो गई थी जबकि 150 लोग घायल हुए थे। इस मामले में पुलिस ने यासीन भटकल को नेपाल बॉर्डर से गिरफ्तार किया था और कुछ समय तक तिहाड़ जेल में रखने के बाद एनआईए ने उसे हैदाराबाद की चेरलापल्ली जेल में शिफ्ट कर दिया था। जानकारी के मुताबिक भटकल बम बनाने में मास्टर है, मुंबई पुलिस और एनआईए ने भटकल पर 10-10 लाख रुपये का इनाम भी रखा था।