IMF प्रमुख लेगार्द भ्रष्टाचार के मामले में दोषी करार

उद्योगपति को 42 करोड़ डॉलर के भुगतान के मामले में IMF प्रमुख क्रिस्टीन लेगार्द को दोषी करार दिया गया।

IMF प्रमुख लेगार्द भ्रष्टाचार के मामले में दोषी करार

अंतरराष्ट्रीय मुद्राकोष प्रमुख क्रिस्टीन लेगार्द को फ्रांस की अदालत ने देश के वित्त मंत्री पद पर रहते हुए एक उद्योगपति को बड़ी राशि का भुगतान मामले में दोषी ठहराया है। क्रिस्टीन लेगार्द पर भुगतान करने में लापरवाही बरतने का आरोप था जिसके लिए उन्हें कोर्ट ने उन्हें दोषी करार दिया है।

मामला एडिडास स्पोट्र्स ब्रांड को क्रेडिट लायोनाइस बैंक को बेचे जान से जुड़ा है। दरअसल 2007 में लेगार्ड ने वित्त मंत्री रहने के दौरान क्रिस्टीन ने बैंक और अंतरराष्ट्रीय कारोबारी दिग्गज बर्नार्ड तैपी के साथ विवाद को सुलझाने की इजाजत दी थी। मामले में वह बर्नार्ड द्वारा ऐडिडास स्पोर्ट्स को क्रेडिट लियोनेस बैंक को बिक्री में भारी राशि का भुगतान नहीं रोक पाई थीं।

लेगार्ड ने कोर्ट में दलील दी कि उन्होंने अच्छी नीयत से तैपी को 42.2 करोड़ डालर के भुगतान की इजाजत दी थी, लेकिन कोर्ट ने उन्हें दोषी करार दिया है।

क्रिस्टीन लेगार्द आईएमएफ की पहली महिला प्रमुख बनी थी। वहीं आईएमएफ प्रमुख के वकील का कहना है कि साल 2007 से 2011 के बीच फ्रांस की वित्त मंत्री रही क्रिस्टीन निर्णय सुनने के लिए पेरिस की अदालत में मौजूद नहीं थी। वह उस समय वाशिंगटन में थी जहां आईएमएफ का मुख्यालय है। 60 साल की क्रिस्टीन के मामले की सुनवाई कोर्ट आफ जस्टिस आफ द रिपब्लिक ने की। इस न्यायाधिकरण में न्यायाधीश और संसद सदस्य होते हैं जो पद पर रहते गलत काम करने वाले फ्रांस के मंत्रियों के खिलाफ सुनवाई करते हैं।

वाशिंगटन में आईएमएफ के एक प्रवक्ता ने कहा कि फैसले पर चर्चा के लिए एजेंसी के निदेशक मंडल की जल्दी ही बैठक होगी। वहीं कोष के प्रवक्ता गेरी राइस ने बयान में कहा गया है कि ऐसी संभावना है कि निदेशक मंडल की जल्दी ही बैठक होगी जिसमें ताजा घटनाक्रम के बारे में विचार किया जाएगा।