श्रीलंका को 34 रन से हराकर भारत अंडर-19 एशिया कप चैम्पियन बना

भारत ने फाइनल मुकाबले में श्रीलंका को 34 रनों से हराकर अंडर-19 एशिया कप क्रिकेट टूर्नामेंट का खिताब अपने नाम किया।

श्रीलंका को 34 रन से हराकर भारत अंडर-19 एशिया कप चैम्पियन बना

भारत ने अंडर-19 एशिया कप क्रिकेट टूर्नामेंट का खिताब अपने नाम कर लिया है। भारतीय टीम ने शुक्रवार को खेले गए फाइनल मुकाबले में श्रीलंका अंडर-19 टीम को 34 रन से हराया। इस टूर्नामेंट का ये तीसरा सीजन था, और तीनों सीज़न में टीम इंडिया ही चैम्पियन बनी है। हालांकि, पहले टूर्नामेंट (2012) में पाकिस्तान भी भारत के साथ संयुक्त विजेता बना था। तब फाइनल मैच टाई हो गया था। 2014 में हुए दूसरे टूर्नामेंट के फाइनल में भारत ने पाकिस्तान को ही 40 रनों से हराया था।

हिमांशु राणा (71) और शुभम गिल (70) की फिफ्टी की बदौलत भारत ने 50 ओवर में आठ विकेट खोकर 273 रन बनाए। बदले में श्रीलंका की टीम ने 48.4 ओवर में 239 रन के स्कोर पर सिमट गई। भारत की ओर से कप्तान अभिषेक शर्मा ने चार और राहुल चाहर ने तीन विकेट लिए।

भारत की यह जीत इसलिए भी विशेष है क्योंकि उम्र विवाद के कारण टूर्नामेंट शुरू होने से पहले ही उसे टीम में सात बदलाव करने पड़े थे। बीसीसीआई ने 19 साल से कम उम्र के खिलाड़ियों का चयन किया था। लेकिन, एशियन क्रिकेट काउंसिल के नियम के मुताबिक इसमें वही खिलाड़ी हिस्सा ले सकते थे जो अगले अंडर-19 वर्ल्ड कप के समय भी 19 साल के कम के हों।

भारत के सात खिलाड़ी ऐसे थे जो एशिया कप तक तो 19 साल से कम के थे लेकिन वर्ल्ड कप शुरू होने तक वे अधिक उम्र के हो जाते। इस वजह से आखिरी समय में टीम में बदलाव हुए। इसके बावजूद भारतीय टीम ने लगातार पांच मैच जीतते हुए खिताब पर कब्जा कर लिया।

श्रीलंकाई टीम 274 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए एक समय दो विकेट पर 158 रन बना चुकी थी। लेकिन इसके बाद स्पिनरों ने भारत की वापसी करा दी। श्रीलंका के आखिरी आठ विकेट सिर्फ 81 रन बनाने में गिर गए। मेजबान टीम की ओर से रेवान केली ने 62 और कामिंदु मेंडिस ने 53 रन की पारी खेली।

हिमांशु राणा इस टूर्नामेंट में भारत के सबसे सफल बैट्समैन रहे। उन्होंने पांच मैचों में एक सेन्चुरी और दो हाफ सेन्चुरी की मदद से 283 रन बनाए। 252 रन के साथ शुभम गिल दूसरे स्थान पर रहे। राहुल चाहर भारत के सबसे सफल बॉलर रहे। उन्होंने चार मैचों में 10 विकेट लिए। अभिषेक शर्मा ने 8 विकेट लिए, साथ ही उन्होंने 154 रन भी बनाए।