तमिलनाडु: वेल्लाेर जिले से 24 करोड़ के नए नोट जब्त

500 आैर 1000 के नाेटाें पर पाबंदी के बीच लाखों-करोड़ों के नए नोट पकड़े जाने का सिलसिला थम नहीं रहा है। इनकम टैक्स के अधिकारियों ने तमिलनाडु के वेल्लोर जिले से छापेमारी कर 24 करोड़ रुपये जब्त किएे हैं और ये सभी 2000 के नए नोट में हैं।

तमिलनाडु: वेल्लाेर जिले से 24 करोड़ के नए नोट जब्त

500 आैर 1000 के नाेटाें पर पाबंदी के बीच लाखों-करोड़ों के नए नोट पकड़े जाने का सिलसिला थम नहीं रहा है। इनकम टैक्स के अधिकारियों ने तमिलनाडु के वेल्लोर जिले से छापेमारी कर 24 करोड़ रुपये जब्त किएे हैं और ये सभी 2000 के नए नोट में हैं। आईटी विभाग अब इस मामले में सीबीआई और ईडी से मदद ले रहा है।

बताया जा रहा है कि यह 24 करोड़ दो दिन पहले चेन्नई  में पकड़े गए 106 करोड़ रुपये की बरामदगी की ही अगली कड़ी है। आरोपियों से पूछताछ के बाद ये नोट जब्त किए गए हैं। आईटी डिपार्टमेंट ने दो दिन पहले ही छापेमारी में 106 करोड़ रुपये बरामद किए थे। आईटी ने ये मामला अब सीबीआई और ईडी के सामने भी उठाया है।आईटी विभाग दोनों एजेंसियों से मदद ले रहा है कि वह पता करे कि आखिर किस तरीके से बैंकिंग सिस्टम से इतने करोड़ों रुपये बाहर आ गए।

चेन्नई में बीते गुरुवार को आयकर विभाग ने आठ जगहों पर छापा मारा था। इसमें बरामद नकदी और सोना देख आयकर अधिकारियों की आंखें भी चौंधिया गईं थीं। टीम ने इस छापेमारी में कुल 106 करोड़ रुपये बरामद किए थे। इसमें से 96 करोड़ पुरानी करेंसी तो 10 करोड़ नए दो हजार के नोट शामिल थे। टीम ने यहां से 127 किलो सोना भी बरामद किया था।

बता दें कि 8 नवंबर को नोटबंदी लागू होने के बाद से ही भारी मात्रा में रुपये बरामद हो रहे हैं जो नए नोटों की शक्ल में हैं। एक तरह बैंकों के बाहर लंबी लाइनें लगी हैं और बैंक रुपये नहीं होने की बात कह रहे हैं, वहीं दूसरी तरफ करोड़ों की नई नकदी बरामद होने से बैंकिंग सिस्टम पर ही सवाल खड़े हो रहे हैं। लोगों की शिकायत है कि बैंक उन्हें पैसा नहीं दे रहे, इसे लेकर कहीं मारपीट, जाम, पथराव की घटनाएं सामने आ रही हैं। वहीं कुछ लोगों के पास करोड़ों के नए नोटों की बरामदगी से लोग खुद को ठगा महसूस कर रहे हैं।