लालू ने नाेटबंदी की तुलना नसबंदी से की, कहा-सबसे बड़ा संगठित घोटाला है

500 आैर 1000 के पुराने नाेटाें पर पाबंदी के बाद राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी पर जमकर निशाना साधा। लालू प्रसाद ने नोटबंदी को पूरी तरीके से असफल करार देते हुए कहा कि यह अब तक का सबसे बड़ा संगठित घोटाला है ।

लालू ने नाेटबंदी की तुलना नसबंदी से की, कहा-सबसे बड़ा संगठित घोटाला है




500 आैर 1000 के पुराने नाेटाें पर पाबंदी के बाद राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी पर जमकर निशाना साधा। मीडिया  से खास बातचीत में लालू प्रसाद ने नोट बंदी को पूरी तरीके से असफल करार देते हुए कहा कि यह अब तक का सबसे बड़ा संगठित घोटाला है। उन्होंने आरोप लगाया कि देश के तमाम हिस्सों से जहां-जहां भारी मात्रा में नए नोट पकड़े जा रहे हैं वह सभी भाजपा से जुड़े लोगों के हैं।

बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और राजद सुप्रीमो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जमकर बरसे। उन्हाेने कहा कि नोटबंदी के 40 दिन बीत चुके हैं। 50 दिन बीतते ही मोदी को देश की जनता के समक्ष जवाब देना होगा। वे माैजूदा दौर में नोटबंदी को आपातकाल की नसबंदी से तुलना करते हैं। उन्होंने नोटबंदी को पूरी तरह से फ्लॉप करार दिया। उन्हाेने आगे कहा  कि नसबंदी को 70 के दशक में चलाने वाली कांग्रेस की तरह यह सरकार भी साल 2019 में धराशायी हो जाएगी। भाजपा के लिए भी नोटबंदी उसी तरह साबित होगा जैसे कांग्रेस के लिए नसबंदी साबित हुई थी।

पीएम मोदी पर तीखा प्रहार करते हुए लालू प्रसाद ने कहा कि वे देश को एक तानाशाह की तरह चला रहे हैं। उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी को देश के लोकतंत्र के लिए खतरा कहा। लालू ने कहा कि नाेटबंदी के मुद्दे पर वह बहुत जल्दी आंदोलन शुरू करने वाले हैं और 28 दिसंबर को बिहार के तमाम जिला मुख्यालय पर धरना प्रदर्शन किया जाएगा और उसके बाद अगले साल की शुरूआत में एक विशाल रैली भी करेंगे। वे राष्ट्रीय और क्षेत्रीय नेताओं से अपील और बात करने की भी बात कहते हैं कि सभी एक मंच पर आए और नोटबंदी का विरोध करें।