जीएसटी का 1 अप्रैल से लागू हो पाना मुश्किल !

प्रस्तावित वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) बिल संसद के चालू सत्र में पास नहीं होगा। 1 अप्रैल से जीएसटी बिल लागू होने की संभावना लगभग ख़त्म हो गई है क्योंकि जीएसटी काउंसिल की कल हुई बैठक एक बार फिर से बेनतीजा रही है।

जीएसटी का 1 अप्रैल से लागू हो पाना मुश्किल !

प्रस्तावित वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) बिल संसद के चालू सत्र में पास नहीं होगा। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक 1 अप्रैल से जीएसटी बिल लागू होने की संभावना लगभग ख़त्म हो गई है क्योंकि जीएसटी काउंसिल की कल हुई बैठक एक बार फिर से बेनतीजा रही है।  वहीं त्योहार की छुट्टी होने से आज होने वाली बैठक भी रद्द कर दी गई है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक अब अगली बैठक 22 और 23 दिसंबर को होगी। केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा है कि जीएसटी लागू करने का हमारा लक्ष्य 1 अप्रैल है। जीएसटी बिल लागू करने के लिए सरकार के पास अब सिर्फ 5 महीने का समय है।

जेटली ने रविवार को बैठक बेनतीजा रहने के बाद कहा कि जीएसटी कानून के मसौदे में 195 धाराएं हैं। वहीं अब तक हम 99 धाराओं पर चर्चा कर चुके हैं। कुछ प्रावधानों को फिर से बनाने की जरूरत है। हम इसमें और बदलाव करेंगे। उम्मीद है कि अगली बैठक में जीएसटी बिल को हम मंजूरी दे देंगे। जीएसटी को केंद्र सरकार 1 अप्रैल से लागू करने के अपने रुख पर कायम है।