मायावती का अखिलेश पर वार, कहा- यूपी के सीएम सच में बबुआ हैं

मायावती ने अंबेडकर परिनिर्वाण दिवस पर लखनऊ में रैली को संबोधित करते हुए यूपी के सीएम अखिलेख यादव को बबुआ बताया है...

मायावती का अखिलेश पर वार, कहा- यूपी के सीएम सच में बबुआ हैं

मायावती ने अंबेडकर परिनिर्वाण दिवस पर लखनऊ में रैली को संबोधित करते हुए कहा कि एसपी परिवार को अार्थिक, राजनीतिक क्षेत्र में जो भी जगह मिली है, वो भीमराव अंबेडकर की वजह से ही मिली है और आज ये दलितों का मजाक उड़ा रहे हैं। ये लोग एहसानफरामोश लोग हैं। महापुरुषों और गुरुओं के बारे ये लोग बेहूदा बातें करते रहते हैं।

साथ ही अखिलेश को निशाने पर लेते हुए मायावती ने कहा कि वो आए दिन कहता है कि जो पत्‍थर लगे हैं, वो गलत हैं। वो कहता है जो पत्‍थर खड़े हैं, वो वहीं खड़े हैं। क्‍या जनेश्रवर मिश्र पार्क में मूर्तियां नहीं खड़ी हैं क्या वो मुर्तियां भी गलत हैं। जब वो अब ऐसी वाते वोल रहा है तो आने वाले वक्त में भी ऐसी बातें कर सकता है। सपा मुखिया को एेसी बातें करने से पहले अपने गिरेबान में झांकना चाहिए।

बता दें कि मायावती ने अखिलेश पर हमला करते हुए कहा कि अखिलेश कभी दलितों पर गलत बयान देते हैं तो कभी मुर्तियों को गलत बताते हैं। लेकिन वो खुद को नहीं देखते कि सपा सरकार का मुखिया अंबेडकर की छुट्टी कभी रद्द कर देता है, कभी लागू कर देता है। इससे पता चलता है कि सपा सरकार का मुखिया वास्‍तव में बबुआ है।

साथ ही मायावती ने कहा कि अखिलेश छोटे-छोटे प्रोग्रामों में हाथियों का गुणगान करता है। ये हाथी उसे सपनों में भी परेशान करते होगें। उन्होंने कहा कि जो पार्क हमने बनाए है, जिसे अखिलेश सरकार फिजूलखर्ची बताती है, उसे देखने के लिए देशभर से लोग आते हैं। लेकिन सपा सरकार अपने मनोरंजन के लिए केवल अपने गृह जनपद में प्रोग्राम कराती है। उससे कोई आय भी नहीं होती है। इस पर उनके नेता बोलने से कतराते हैं।

माया ने आगे कहा कि अपने देश में दलित, अादिवासी, पिछड़े लोगों, अल्‍पसंख्‍यकों को बहुत संघर्ष करना पड़ा है और ये लोग सु‍रक्षित रहें, इसके लिए बाबा साहब ने धर्मनिरपेक्षता के आधार पर संविधान का निर्माण किया। उनका कहना है कि अगर आज ये लोग सुरक्षित हैं, तो उसकी वजह बाबा साहब ही हैं।