मायावती का बीजेपी, कांग्रेस और एसपी पर निशाना

मायावती ने बीजेपी पर साधा निशाना, कहा- 'हिंदुत्व के आधार पर समाज को बांट रही है बीजेपी'

मायावती का बीजेपी, कांग्रेस और एसपी पर निशाना

बीएसपी प्रमुख मायावती ने बाबा साहब भीमराव अंबेडकर की 61वीं पुण्यतिथि के मौके पर लखनऊ में एक रैली को संबोधित किया। इस दौरान मायावती ने उत्तर प्रदेश की समाजवादी पार्टी की सरकार के साथ ही केंद्र की बीजेपी सरकार पर भी जमकर निशाना साधा।

मायावती ने कहा कि बीजेपी हिंदुत्व के आधार पर समाज को विभाजित करने की कोशिश कर रही है। अंबेडकर ने भारतीय संविधान को धार्मिक समानता के आधार पर बनाया था लेकिन बीजेपी और आरएसएस को यह स्वीकार नहीं है और ये लोग देश में हिंदुत्व को थोपना चाहते हैं।

मायावती आगे कहा कि धर्मनिरपेक्षता की बुनियाद पर देश का संविधान बनाने वाले बाबा साहब भीमराव अंबेडकर के प्रति गंदी मानसिकता की वजह से ही बीजेपी और आरएसएस ने अयोध्या में विवादित ढांचा गिराने के लिए 6 दिसंबर का दिन चुना था। मायावती ने आरोप लगाया कि बीजेपी और संघ के लोग यह कतई नहीं चाहते कि हिंदुओं को छोडकर अन्य धर्म के लोग मान-सम्मान की जिंदगी जियें।

मायावती ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि कांग्रेस ने पिछड़ी जातियों का बरसों तक शोषण किया है। सिर्फ बीएसपी ने ही उन्हें सम्मानजनक स्थान दिया है। मायावती ने मंडल आयोग की सिफारिशें लागू न करने के लिए भी कांग्रेस की आलोचना की।

बीएसपी सुप्रीमो ने कहा कि यूपी में जब बीएसपी की सरकार थी तो उन्होंने प्रदेशभर में अंबेडकर के स्मारक लगाए जिन्हें देखने के लिए हजारों की संख्या में लोग आते हैं जिससे प्रदेश की आय बढ़ती है। वहीं, मौजूदा समाजवादी पार्टी की सरकार अपने सैफई महोत्सव के लिए गरीबों का पैसा बेदर्दी से खर्च करती है लेकिन उसे देखने ना ही कोई आता है और ना ही इससे कोई आय होती है।