पाकिस्तान: संसद ने 5000 रु का नोट हटाने की दी मंजूरी

भारत की तरह पाकिस्तान में भी नोटबंदी, 5000 रुपये का नोट हटाने के लिए संसद ने दी मंजूरी ।

पाकिस्तान: संसद ने 5000 रु का नोट हटाने की दी मंजूरी

पाकिस्तान की संसद ने 5000 रुपए के नोटों को हटाने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। हालांकि, यह भी तय किया गया कि इन नोटों को कैसे हटाया जाएगा। पाकिस्तान मुस्लिम लीग के सांसद उस्मान सैफ उल्लाह खां ने संसद के सामने यह प्रस्ताव पेश किया था।

गौरतलब है कि 8 नवंबर को भारत में प्रधानमंत्री मोदी ने 500 और 1000 रुपए के नोट को बैन कर दिया था।

पाकिस्तान में सांसद की ओर से प्रस्ताव में कहा गया है कि 5000 रुपए के बड़े नोट बंद कर कालेधन पर लगाम लगाई जा सकती है। साथ ही, लोगों में बैंक के इस्तेमाल की आदत को भी बढ़ावा दिया जा सकता है। पाकिस्तान ने अगले तीन से पांच साल में यह नोट हटाने का फैसला किया है।

5000 के नोटों को तीन से पांच साल के भीतर बंद करने की सलाह दी गई है, ताकि बिना किसी परेशानी के नोटों को हटाया जा सकें। 

पाक लॉ मिनिस्टर जाहिद हमीद का कहना है कि मौजूदा वक्त में 3.4 खरब नोट सर्कुलेशन में हैं और इनमें से 1.02 खरब नोट 5000 रुपए के हैं, इतनी बड़ी तादाद में नोट वापस लेने से करंसी का संकट आ जाएगा।

वेनेजुएला में प्रेसिडेंट निकोलस मादुरो ने 11 दिसंबर को सबसे बड़े और ज्यादा चलने वाले 100 बोलिवर के नोट को बंद करने का एलान किया था। इस फैसले से कैश की भारी किल्लत हो गई। नई करंसी नहीं मिलने से संकट गहरा गया था। प्रदर्शन के दौरान और पुलिस के साथ झड़प में एक शख्स की मौत भी हो गई। नोटबंदी के बाद हुई हिंसा-लूटपाट को देखते हुए सरकार ने हफ्ते भर बाद ही फैसला वापस ले लिया।

देश की टोटल करंसी का 77% हिस्सा 100 बोलिवर के नोट में था। लोगों को नोट बदलने के लिए 10 दिन का समय दिया गया था, लेकिन कैश की किल्लत के चलते वे खाने-पीने की चीजें और क्रिसमस के उपहार तक नहीं खरीद पा रहे थे। नोटबंदी के फैसले को फिलहाल जनवरी तक के लिए टाल दिया गया है।