रूसी विमान दुर्घटनाग्रस्त, सभी 92 लोगों की मौत

रूस का सैन्य विमान टीयू-154 रविवार सुबह ब्लैक-सी में दुर्घटनाग्रस्त हो गया। ये विमान सीरिया जा रहा था और इसमें सवार सभी 92 लोगों की मौत हो गई। विमान में 84 यात्री समेत रूस के चर्चित और सेना के अधिकारिक बैंड एलेक्सांद्रो एनसेंबल के सदस्य, नौ पत्रकार और चालक दल के आठ सदस्य सवार थे।

रूसी विमान दुर्घटनाग्रस्त, सभी 92 लोगों की मौत



रूस का सैन्य विमान टीयू-154 रविवार सुबह ब्लैक-सी में दुर्घटनाग्रस्त हो गया। ये विमान सीरिया जा रहा था और इसमें सवार सभी 92 लोगों की मौत हो गई। विमान में 84 यात्री समेत रूस के चर्चित और सेना के अधिकारिक बैंड एलेक्सांद्रो एनसेंबल के सदस्य, नौ पत्रकार और चालक दल के आठ सदस्य सवार थे। अंतरराष्ट्रीय स्तर पर ‘रेड आर्मी क्वायर’ के नाम से विख्यात यह म्युजिकल ग्रुप नववर्ष पर सीरिया स्थित रूसी वायुसैनिक अड्डे पर आयोजित होनेवाले एक कार्यक्रम में हिस्सा लेने जा रहा था।

रूसी रक्षा मंत्रालय के हवाले से अंतरराष्ट्रीय मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक दक्षिणी शहर आदलर से (भारतीय समयानुसार रविवार सुबह 7:55 बजे) उड़ान भरने के दो मिनट बाद ही टीयू-154 रडार से लापता हो गया। विमान के मलबे का कुछ हिस्सा ब्लैक-सी से डेढ़ किलोमीटर के दायरे में 50-70 मीटर की गहराई से बरामद किए गए। सोचि से छह किलोमीटर दूर चार लोग के शव मिले हैं। सोचि ब्लैक-सी के पास बसा तटीय शहर है।

रूसी राष्ट्रपति ब्लादिमीर पुतिन ने प्रधानमंत्री दमित्री मेदवेदेव को इस घटना की जांच के लिए सरकारी आयोग का नेतृत्व करने का आदेश दिया है। क्रेमलिन के प्रवक्ता दिमित्री पेसकोव ने बताया कि रक्षा मंत्री सर्गेई शोईगु पुतिन के साथ लगातार संपर्क में हैं। राष्ट्रपति अभी कुछ और तस्वीर साफ होने का इंतजार कर रहे हैं। रिपोर्ट के मुताबिक उन्होंने कहा कि दुर्घटनास्थल के आस-पास के हालात का जायजा लेने के लिए बनी टीम के साथ उप रक्षा मंत्री पावेल पोपोव घटनास्थल पर पहुंच गए हैं। ज्ञात हो कि आइएस के खिलाफ रूस सीरिया के बशर अल असद के समर्थन में हवाई अभियान चला रहा है। पिछले हफ्ते सीरियाई शहर अलेप्पो में हवाई हमले किए गए थे।

भारतीय प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने रूसी सैनिकों की मौत पर संवेदना व्यक्त की और कहा कि इस जनहानि के दुख के समय में भारत भी शामिल है।