BJP नेता को SC की कड़ी फटकार, कहा- 'PIL डालना बंद करो, अपनी सरकार से काम करवाओं'

सुप्रीम कोर्ट में अक्सर किसी न किसी मामले काे लेकर याचिका दायर करने वाले दिल्ली बीजेपी के प्रवक्ता अश्विनी कुमार उपाध्याय को उच्च न्यायालय ने इस बात काे लेकर फटकार लगाई है

BJP नेता को SC की कड़ी फटकार, कहा-

सुप्रीम कोर्ट में अक्सर किसी न सिकी मामले काे लेकर याचिका दायर करने वाले दिल्ली बीजेपी के प्रवक्ता अश्विनी कुमार उपाध्याय को उच्च न्यायालय ने इस बात काे लेकर फटकार लगाई है। उच्च न्यायाधीश टी एस ठाकुर ने कड़ी शब्दों का इस्तेमाल करते हुए कहा कि उपाध्याय प्रोफेशनल जनहित याचिका कर्ता बनते जा रहे हैं और लगता है कि इसी काम के लिए दफ्तर चला रहे हैं।

इस मामले काे लेकर सुप्रीम कोर्ट ने कहा, 'आप दिल्ली भाजपा के प्रवक्ता हैं, सरकार के पास क्यों नहीं अपना मामला ले कर जाते हैं, सरकार से गुज़ारिश क्यों नहीं करते! आप हर रोज कुछ न कुछ याचिका लगाते रहते हैं।'

उल्लेखनीय है कि अश्विनी कुमार उपाध्याय ने शराब के लिए पूरे देश में समान नीति लागू करने की मांग याचिका में की थी। सुप्रीम कोर्ट ने यह याचिका खारिज कर दी। अश्विनी ने यूनिफॉर्म सिविल कोड ,नोटबंदी ,तीम तलाक, सरकारी स्कूलों में अनिवार्य योग, जजों की नियुक्ति जैसे सभी महत्वपूर्ण मामलों में याचिका दायर की हुई है। वह छह महीने में कम से कम एक दर्जन पीआईएल दाखिल कर चुके हैं। अश्विनी उपाध्याय पेशे से वकील हैं।

कोर्ट ने सख्त शब्दों में कहा, 'क्या रोज पीआईएल दाखिल करते हो! ऐसा लगता है इसी काम को लिए दफ्तर चला रहे हो! आपकी पार्टी बीजेपी आपको कोर्ट के अंदर नेतागिरी करने के लिए पैसा दे रही है क्या? हर बात के लिए हमारे पास आने की जरूरत नहीं आपकी सरकार सत्ता में है उनसे कहो कि नीतियां बनाएं।