नोटबंदी के खिलाफ माले का 'हल्ला बोल'

नोटबंदी के खिलाफ माले का हल्ला बोल शुरू, कहा- 'पूंजीपतियों को लाभ पहुंचाने के लिए नोटबंदी का निर्णय लिया गया'

नोटबंदी के खिलाफ माले का

नोटबंदी के फैसले को आम अवाम के लिए परेशानी का सबब बताते हुए बिहार के भोजपुर जिले में भाकपा माले कार्यकर्ताओं द्वारा इसके खिलाफ हल्ला बोल कार्यक्रम शुरू किया गया है। इस कार्यक्रम के तहत सोमवार को भाकपा माले के पीरो अंचल इकाई द्वारा प्रखंड के हसन बाजार व तरारी अंचल इकाई द्वारा सिकरहटा और खुटहां में जन सुनवाई कार्यक्रम का आयोजन किया गया.

इस दौरान भाकपा माले नेता दिनेश्वर राम, संजय सिंह, राम वचन महतो, दिनेश्वर सिंह व दिनेश सिंह, पूर्व विधायक चंद्रदीप सिंह, दुदुन सिंह, डॉ मंगल महतो, गोपीचंद राम, अरुण महतो, श्रवण पासवान, मनीर अंसारी, राम बाबू चंद्रवंशी समेत कई नेताओं ने कहा कि मोदी सरकार ने साजिश के तहत पूंजीपतियों को लाभ पहुंचाने के लिए नोटबंदी का निर्णय किया गया है। इस निर्णय से जहां पूंजीपति मालामाल हो रहे हैं वहीं गरीब जनता का बुरा हाल हो रहा है।

भाकपा माले नेताओं का कहना है कि आज गरीब व मजदूर तबके के लोगों के सामने रोजी-रोटी की समस्या खड़ी हो गई है। अगर सरकार को इन गरीबों की इतनी चिंता है, तो उसे तत्काल इनके लिए मुफ्त राशन-केरोसिन, मुफ्त शिक्षा-चिकित्सा व प्रत्येक गरीब परिवार के खाते में कम से कम एक लाख नकद रुपये की व्यवस्था करनी चाहिए।

भाकपा माले नेताओं ने आगे कहा कि सरकार को आय से अधिक रकम रखने वाले पूंजीपतियों की संपत्ति जब्त कर उसे गरीबों में बांट देनी चाहिए पर केंद्र सरकार की मंशा पूंजीपतियों की काली कमाई को सफेद करने की है, तभी तो पचास प्रतिशत टैक्स देकर कालेधन को सफेद करने की योजना लाई गई है।