यूपी में चुनाव लड़ने का एक ही मकसद है हिंदु को उनका हक दिलाना: शिवसेना

उत्तर प्रदेश में शिवसेना 250 सीटों पर चुनाव लड़ेगी, शिवसेना ने कहा, 'हमारा यूपी में चुनाव लड़ने का एक ही मकसद है कि हिंदुओं को उनका हक मिले और राम मंदिर का निर्माण हो।'

यूपी में चुनाव लड़ने का एक ही मकसद है हिंदु को उनका हक दिलाना: शिवसेना

उत्तर प्रदेश में आगामी विधानसभा चुनाव के मद्देनजर शिवसेना ने चुनाव लड़ने की घोषणा कर दी है। मंगलवार को शिवसेना ने कहा कि पार्टी यूपी में 250 सीटों पर चुनाव लड़ेगी। शिवसेना के नेताओं का कहना है कि बीजेपी का हमारा गठबंधन केंद्र में सरकार का है। यूपी चुनाव में अभी तक कोई गठबंधन नहीं किया गया है।

शिवसेना के प्रदेश प्रमुख ठा. अनिल सिंह का कहना है कि हम यूपी में विधानसभा चुनाव 250 सीटों पर लड़ने की तैयारी कर चुके हैं। हमारा यूपी में चुनाव लड़ने का एक ही मकसद है कि हिंदुओं को उनका हक मिले और राम मंदिर का निर्माण हो। हम पूरी तरह से यूपी में चुनाव लड़ने को तैयार हैं, जिसकी घोषणा 8 जनवरी को राष्ट्रीय प्रवक्ता संजय राउत करेंगे।

पॉलिटिकल एक्सपर्ट पत्रकार पंकज चतुर्वेदी ने कहा कि शिवसेना का यहां संगठन नहीं है, जिसका सीधा असर उसके चुनावों पर होगा। यहां सबसे अहम बात ये है कि शिवसेना यहां बीजेपी के सहारे ही है। अब अगर ऐसी स्थिति में ये चुनाव लड़ते हैं तो इसमें बीजेपी का हिंदू वोटर ही कटेगा, यानी मतलब साफ है कि बीजेपी को ही नुकसान होगा।

ठा. अनिल सिंह 14 जनवरी को प्रदेश कार्यकारिणी की घोषणा करने के साथ ही समीक्षा बैठक करेंगे।