वडोदरा: बारात पर पत्थर फेंकने से हिंसा, भिड़ ने वाहनाें काे किया आग के हवाले

गुजरात के वडोदरा के पुराने शहर में दो अलग-अलग समुदायों के गुट आपस में भिड़ गए। हिंसा में भीड़ ने एक कार और एक बाइक को आग के हवाले कर दिया

वडोदरा: बारात पर पत्थर फेंकने से हिंसा, भिड़ ने वाहनाें काे किया आग के हवाले

बीते बुधवार काे गुजरात के वडोदरा के पुराने शहर में दो अलग-अलग समुदायों के गुट आपस में भिड़ गए। बताया जा रहा है कि यह घटना करीब 12:30 बजे की है जब संवेदलशील इलाके फतेहपुरा से एक बारात जा रही थी। तभी उस बारात पर पत्थर फेंके गए। इस दौरान एक दूसरे पर काफी पत्थरबाजी भी गई। इसके साथ ही भीड़ ने एक कार और एक बाइक को आग के हवाले कर दिया। पुलिस ने भीड़ को तितर-बितर करने के लिए आंसू गैस के गोले छोड़े। वहीं पुलिस के वाहन पर भी एक देसी बम फेंका गया। पुलिस के मुताबिक यह भिड़ंत उस वक्त हुई, जब इस इलाके से बारात गुजर रहा था। तब कुछ उपद्रवीयाें ने उस बारात पर पत्थर फेंका इस कराण मामला तब और ज्यादा बिगड़ गया, जब दोनों समुदाय के लोग इकट्ठे हो गए और दोनों के बीच तीखी बहस हुई। इस दौरान एक दूसरों पर पत्थर फेंके जाने लगे।

मीडिया के हवाले मिल रही जानकारी के मुताबिक, पुलिस की टीम मौके पर पहुंची और भीड़ को तितर-बितर करने के लिए आंसू गैस के गोले छोड़े। पुलिस पहले दोनों समुदायों को समझा रही थी, लेकिन जब डिप्टी कमीश्नर ऑफ पुलिस के वाहन पर देसी बम फेंका गया तो पुलिस ने आंसू गैस के गोले छोड़ने का फैसला लिया। भीड़ ने कार और बाईक को आग के हवाले कर दिया तो मौके पर एंबुलेंस पहुंची। सांप्रदायिक हिंसा में पांच पुलिसकर्मियों को मामूली चोट लगने की रिपोर्ट है।

ज्वाइंट कमीश्नर ऑफ पुलिस डीजे पटेल का कहना है, ‘करीब पांच अधिकारियों को चोट पहुंची है। हमारे पास भीड़ में से घायल होने वालों की कोई रिपोर्ट नहीं है, लेकिन यह तय है कि आंसू गैस के दौरान कुछ लोग भिड़ में से भी घायल हुए होंगे। शुरुआती जांच से हमें पता चला है कि विवाद एक बारात और स्थानीय लोगों के बीच हुई बहस के बाद हुआ। हम लोग मामले की जांच कर रहे हैं।”

(फाेटाे सभार गूगल)