चौथे टेस्ट में इंग्लैंड की हालत होगी खराब

भारत के खिलाफ टेस्ट सीरीज में 0-2 से हारी इंग्लैंड टीम के लिए चौथे मुकाबले में वापसी करना आसान नहीं होगा, इस टेस्ट में भी उनके लिए मुश्किलें कम नहीं होने वाली।

चौथे टेस्ट में इंग्लैंड की हालत होगी खराब

भारत के खिलाफ टेस्ट सीरीज में 0-2 से हारी इंग्लैंड टीम के लिए चौथे मुकाबले में वापसी करना आसान नहीं होगा, इस टेस्ट में भी उनके लिए मुश्किलें कम नहीं होने वाली।

गुरुवार से खेले जाने वाले मुकाबले के बारे में वानखेड़े स्टेडियम के क्यूरेटर रमेश ने कहा कि यहां का विकेट तीसरे दिन से ही स्पिनरों को मदद करने लगेगा। इससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि भारत इंग्लैंड को स्पिनिंग ट्रैक पर खिलाने के लिए सारी तैयारियां कर रहा है।

क्यूरेटर ने कहा, 'वानखेड़े स्टेडियम की पिच दूसरे दिन शाम या तीसरे दिन की सुबह से ही टर्न लेना प्रारंभ कर देगी। पिच पर से घास को साफ कर दिया गया है। यहां कुछ दिनों से काफी ओस पड़ रही है, इसलिए हम पिच को कवर नहीं कर रहे हैं। इस पर लगातार पानी डाला जा रहा है।'

क्यूरेटर के इस बयान से इंग्लिश खेमे में चिंता बढ़ गई होगी, क्योंकि स्पिन की मददगार पिच पर भारतीय स्पिनरों का सामना करना उनके लिए आसान नहीं होगा। इस समय भारतीय स्पिन तिकड़ी रविचंद्रन अश्विन, रवींद्र जडेजा और जयंत यादव शानदार फॉर्म में हैं। ऐसे में इंग्लैंड की सीरीज में वापसी की योजनाओं को झटका लगेगा।

भारतीय स्पिन गेंदबाजों ने विशाखापत्तनम और मोहाली टेस्ट में मेहमान बल्लेबाजों की कठिन परीक्षा ली थी। इस टर्निंग ट्रैक पर इंग्लैंड टीम के वापसी के प्रयासों को न सिर्फ करारा झटका लग सकता है, बल्कि उस पर एक और हार का खतरा मंडरा रहा है।

पांच मैचों की सीरीज के राजकोट में हुए पहले टेस्ट में इंग्लैंड टीम ने टीम इंडिया पर दबाव बनाया था, लेकिन इसके बाद विराट कोहली की ब्रिगेड ने पलटवार करते हुए इंग्लिश टीम को बैकफुट पर ला दिया। भारतीय टीम ने तक अगले दोनों टेस्ट प्रभावी अंतर से जीते और सीरीज में 2-0 की मजबूत बढ़त बना ली है। हालांकि सीरीज में अब तक सबसे अधिक विकेट इंग्लैंड के स्पिनर आदिल रशीद (18 विकेट) ने नाम हैं, लेकिन अश्विन (15 विकेट) और रवींद्र जडेजा (10 विकेट) ने इंग्लैंड के बल्लेबाजी क्रम को ध्वस्त करने में खास भूमिका निभाई है।

भारत के एक अन्य गेंदबाज जयंत यादव ने भी दो मैच में आठ विकेट लेते हुए इस स्पिन जोड़ी का अच्छा साथ दिया है। अश्विन इस समय जिस फॉर्म में हैं उसे देखते हुए इंग्लैंड की राह बिल्कुल भी आसान नहीं रहने वाली है। अश्विन ने वानखेड़े में तीन टेस्ट मैच खेले हैं और उनमें उन्होंने 18 विकेट लिए हैं।