चलती ट्रेन में युवक की बेरहमी से हत्या, किसी ने बचाने की हिम्मत नहीं की

ताप्ती-गंगा एक्सप्रेस में दबंगों ने युवक की पीट-पीटकर बेरहमी से हत्या कर दी, हत्या के शव को ट्रेन के शौचालय में छोड़कर मौके से फरार हुए सभी आरोपी ।

चलती ट्रेन में युवक की बेरहमी से हत्या, किसी ने बचाने की हिम्मत नहीं की

उत्तरप्रदेश के वाराणसी में जौनपुर के खुटहन से सूरत जा रहे युवक की ताप्ती-गंगा एक्सप्रेस में बीते रविवार शाम मामूली कहासुनी के बाद दबंगों ने युवक की पीट-पीटकर हत्या कर दी। आरोपी ने युवक के शव को ट्रेन के शौचालय में बंद कर दिया जिसके बाद आरोपी मौके से फारार हो गए। पति को खोजते हुए पत्नी शौचालय तक पहुंची तो उसकी आंखे फटी की फटी रह गई। मृतक युवक अपनी मां, पत्नी और भांजी के साथ शाहगंज से ट्रेन में चढ़ा था।

जौनपुर के खुटहन निवासी 28 वर्षीय सिन्टू गुप्ता नौकरी के लिए अपनी पत्नी पूजा, मां दुलारी और भांजी के साथ सूरत जा रहा था। जनरल बोगी में उसका एक महिला से झगड़ा हो गया। इस पर पांच युवकों ने सिन्टू को दबोच लिया और पीटना शुरू कर दिया। पत्नी पूजा बीच-बचाव करने पहुंची तो आरोपियों ने उसको भी पीटा गया। ये सारी घटना चलती ट्रेन में होती रही लेकिन किसी ने उन दबंगों को रोकने की हिम्मत नहीं की। दबंग सिन्टू को पीटते हुए शौचालय में ले गए और वहां भी उसे पीटते रहे। आरोपियों ने सिन्टू के कपड़े उतारकर उसी से उसका गला दबा दिया और चेन पुलिंग कर भाग निकले।

ट्रेन रुकते ही महिला भागते हुए शौचालय तक पहुंची तो पति को मरा देख जोर-जोर से चिल्लाने लगी। तब तक ट्रेन वाराणसी के प्लेटफार्म नंबर चार पर पहुंच गई। यात्रियों की सूचना पर जीआईपी ने शव को ट्रेन से उतारा। जिस महिला से विवाद के बाद युवक की पिटाई हुई उसने पांचों युवकों को पहचानने से इनकार कर दिया। जीआरपी से महिला ने कहा कि पांचों उसके साथ नहीं थे। पुलिस ने महिला यात्री का नाम पता लेकर ट्रेन को रवाना कर दिया।