मध्य प्रदेश: पापा स्कूल में मिलने नहीं आते थे ताे- नाै साल के बच्चे ने लगाई फांसी

मध्य प्रदेश के बड़वानी जिले में एक बेहद दर्दनाक घटना सामने आई है। जिसमे एक नौ साल के बच्चे ने कथित रुप से फांसी लगा ली। बच्चा इस बात से बेहद आहत था कि पापा उससे मिलने के लिए नहीं आते थे और न ही पैरेंट्स मीटिंग में शामिल होते थे।

मध्य प्रदेश: पापा स्कूल में मिलने नहीं आते थे ताे- नाै साल के बच्चे ने लगाई फांसी

मध्य प्रदेश के बड़वानी जिले में एक बेहद दर्दनाक घटना सामने आई है। जिसमे एक नौ साल के बच्चे ने कथित रुप से फांसी लगा ली। बच्चा इस बात से बेहद आहत था कि पापा उससे मिलने के लिए नहीं आते थे और न ही पैरेंट्स मीटिंग में शामिल होते थे।

मीडिया जानकारी के मुताबिक, अलीराजपुर जिले में रहने वाला शिवम ग्राम लोनसरा में बोर्डिंग स्कूल की कक्षा तीसरी का छात्र था। वह पिछले दो साल से बोर्डिंग स्कूल में रहकर पढ़ाई कर रहा था। क्रिसमस के पहले तबीयत खराब होने की वजह से वह छुट्टी लेकर घर लौट गया था।

मां मधु तोमर व बहन अर्पिता बीते शुक्रवार को उसे स्कूल छोड़ने के लिए अलीराजपुर से बड़वानी में मामा हितेंद्र मंडलोई के घर आए थे। मां और बहन उसे मामा के यहां छोड़कर घर लौट रहे थे। दोनों को बस में बैठाने के लिए मामा बस स्टैंड गए थे, इस दौरान घर पर अकेले शिवम ने किचन में फांसी लगा ली।

नौ साल का शिवम पापा की बेरुखी से कितना आहत था इसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि उसने पहले बालकनी से कूदकर जान देने की कोशिश की। 11 साल की बहन अर्पिता ने उसे ऐसा करने से रोका तो दोनों में काफी झगड़ा भी हुआ था।

परिजनों ने मीडिया ताे बताया कि शिवम के पिता देवसिंह ने कुछ दिन पहले दूसरी शादी कर ली। शादी के बाद वह बच्चों व बहन पर ध्यान नहीं देते हैं। परिजन के अनुसार अन्य बच्चों की तरह शिवम के पापा उससे मिलने स्कूल नहीं जाते थे। इस बात से वह काफी परेशान रहता था।