गाय-भैंसों को दिया जाएगा आधार कार्ड

गाय और भैंसों को भी अब आधार कार्ड दिया जाएगा। मोदी सरकार ने ऐलान किया है कि आने वाले समय में गाय और भैंसों को भी आधार जैसा यूनीक आईडेंटिफिकेशन नंबर (UID) मिलेगा।

गाय-भैंसों को दिया जाएगा आधार कार्ड

गाय और भैंसों का भी अब आधार कार्ड दिया जाएगा। मीडिया रिपोर्टस के मुताबिक मोदी सरकार ने ऐलान किया है कि आने वाले समय में गाय और भैंसों को भी आधार जैसा यूनीक आईडेंटिफिकेशन नंबर (UID) मिलेगा। इसके लिए नए साल से कार्य भी शुरू कर दिया गया है। इसके लिए लगभग एक लाख लोग पूरे देश के कोने-कोने में घूमकर पशुओं पर टैग लगाएंगे। उन लोगों को 50 हजार टैबलेट भी सौंप दिए गए हैं।

मीडिया में आ रही खबरों के मुताबिक यह काम पीएम नरेंद्र मोदी के कहने पर ही किया जा रहा है। टैग की मदद से पशुओं पर नजर रखने में आसानी होगी। जिससे उनकी दवाएं, टीकाकरण समय पर किया जा सकेगा। इससे दुग्ध उत्पादन बढ़ेगा और 2022 तक डेयरी किसानों की आय लगभग दोगुनी हो जाएगी।

बता दें कि पशुओं के कान के अंदर एक पीले रंग का टैग डाला जाएगा। प्रत्येग टैग सरकार को आठ रुपए का पड़ेगा। उस टैग को ऐसे मेटेरियल से बनाया जा रहा है जिससे पशु को कोई नुकसान नहीं होगा। टैग लगाने वाला शख्स उसे लगाकर टैग के नंबर को अपने टैबलेट के ऑनलाइन डाटाबेस में ऐड कर लेगा। इसके साथ ही पशु के मालिक को उससे जुड़ा एक हेल्थ कार्ड दिया जाएगा। उसमें भी पशु का UID नंबर होगा।

इस टैगिंग के पूरे काम पर सरकार 148 करोड़ रुपए खर्च करेगी। सरकार ने 2017 के लिए कुछ टारगेट भी तय किए हैं। जैसे 2017 में सिर्फ यूपी के ही 14 लाख पशुओं की टैगिंग की जाएगी, वहीं मध्य प्रदेश में महीनेभर में 7.5 लाख पशुओं की टैगिंग की जानी है।