आमिर को आती है इस बात पर शर्म

नए साल के मौके पर लड़कियों के साथ हुई छेड़छाड़ पर बयानबाज़ी का दौर लगातार जारी है। सभी अपनी-अपनी प्रतिक्रिया दें रहे हैं। वहीं छेड़छाड़ को लेकर बॉलीवुड अभिनेता आमिर खान का कहना है कि इस तरह की घटनाए ही देश और इंसानियत को शर्मसार करती हैं...

आमिर को आती है इस बात पर शर्म

नए साल के मौके पर लड़कियों के साथ हुई छेड़छाड़ पर बयानबाज़ी का दौर लगातार जारी है। सभी अपनी-अपनी प्रतिक्रिया दें रहे हैं। वहीं छेड़छाड़ को लेकर बॉलीवुड अभिनेता आमिर खान का कहना है कि इस तरह की घटनाए ही देश और इंसानियत को शर्मसार करती हैं और इस तरह की घटनाओं से शर्म आती है। आमिर ने इस तरह की घटनाओं की निंदा करते हुए उन्हें शर्मनाक और दुखद बताया है।

बता दें कि कर्नाटक की राजधानी में नए साल के जश्न में छेड़छाड़ की घटना ने  तब बुरा रुप ले लिया जब 31 दिसंबर की रात को शहर के मुख्य इलाके में भारी भीड में पुलिस की अच्छी खासी मौजूदगी के बीच कई महिलाओं के साथ कथित रुप से यौन उत्पीडन की घटनाएं हुईं जिसे लेकर देश भर में आक्रोश है। आमिर ने यहां ‘सत्यमेव जयते वाटर कप' के दूसरे संस्करण की शुरुआत के मौके पर कहा कि बेंगलुरु में जो कुछ हुआ वह बहुत दुखद है। हम सब दुखी हैं और जब हमारे देश में ऐसा कुछ होता है तो हमें शमिंर्दगी महसूस होती है। हर राज्य सरकार को इन्हें रोकने के लिए कदम उठाने चाहिए। 51 साल के अभिनेता ने कहा कि वक्त आ गया है कि कानून व्यवस्था ‘‘मजबूत बनाई जाए और वह तेजी से काम करे' ताकि एक उदाहरण स्थापित किया जा सके और देश में इस तरह की घटनाओं को रोका जा सके।

साथ ही आमिर का कहना है कि हम 13 जिलों के 30 तालुक तक पहुंच रहे हैं। अगर परियोजना सफल रहती है और हम महाराष्ट्र को सूखा मुक्त करने में योगदान देते हैं तो इससे मुझे मेरी फिल्मों की सफलता से ज्यादा संतुष्टि मिलेगी।' अभिनेता ने कहा कि पिछली बार प्रतियोगिता में तीन तालुकों के 116 गांवों ने हिस्सा लिया था और अब 13 जिलों के 30 तालुक इसके दायरे में हैं। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस ने आमिर को ‘जल सेवक' बताया। उन्होंने कहा कि आमिर हनुमान की तरह हैं। उन्हें उनकी ताकतों की याद दिलानी पडती है। वह इस बात को लेकर उहापोह में थे कि वह परियोजना के साथ न्याय कर पाएंगे या नहीं।