शपथ के बाद बोले ट्रंप- कट्टरपंथी इस्लामी आतंकवाद का करेंगे सफाया

अमेरिका के 45वें राष्ट्रपति के तौर पर डोनाल्ड ट्रंप ने शपथ ली। इस दौरान ट्रंप ने कहा कि उनका प्रशासन दुनिया से ‘कट्टरपंथी इस्लामी आतंकवाद’ का सफाया करेगा।

शपथ के बाद बोले ट्रंप- कट्टरपंथी इस्लामी आतंकवाद का करेंगे सफाया

अमेरिका के 45वें राष्ट्रपति के तौर पर डोनाल्ड ट्रंप ने शपथ ली। अंतरराष्ट्रीय मीडिया में आ रही खबरों के मुताबिक इस दौरान ट्रंप ने कहा कि उनका प्रशासन दुनिया से ‘कट्टरपंथी इस्लामी आतंकवाद’ का सफाया करेगा। उन्होंने कहा कि हम पुराने गठजोड़ों को नई ताकत देंगे और एक नया स्वरूप देंगे। कट्टरपंथी इस्लामी आतंकवाद के खिलाफ सभ्य दुनिया को एकजुट करेंगे। इस आतंकवाद का हम धरती से सफाया करेंगे। ट्रंप ने कहा कि ‘अमेरिका फस्ट’ (सबसे पहले अमेरिका) उनकी सरकार का मूलमंत्र होगा और सत्ता वॉशिंगटन से जनता को हस्तांतरित की जाएगी।
डोनाल्ड ट्रंप के भाषण की खास 7 बातें

1. ट्रंप ने देशवासियों से कहा कि देश का फिर से ऐसा निमार्ण किया जाएगा कि वह वापस सपने संजो सकें। उन्होंने अमेरिकियों की नौकरियां बहाल करने का भी वादा किया।

2. उन्होंने कहा कि हम साथ मिलकर अमेरिका और दुनिया की कार्यप्रणाली तय करेंगे, जो आने वाली कई सालों के लिए होगी। हम चुनौतियों का सामना करेंगे, हम कठिनाइयों का सामना करेंगे

3. डोनाल्ड ट्रंप ने बंदूक की हिंसा, मादक पदार्थ और अपराध सहित देश के सामने खड़ी समस्याओं का निदान करने का संकल्प लेते हुए कहा, हम वाशिंगटन डीसी से सत्ता का हस्तांतरण कर रहे हैं और इसे अमेरिकी जनता के हाथों में सौंप रहे हैं।

4. इसके साथ ही अमेरिका के नए राष्ट्रपति ने कहा कि खोखली बातों का दौर अब खत्म हो गया। अभ काम का समय आ गया है। ट्रंप ने कहा कि देश को एकजुट बनाए रखने के प्रयास के तहत यह मायने नहीं रखता कि सरकार पर किस पार्टी का नियंत्रण है, बल्कि यह मायने रखता है कि क्या सरकार पर जनता का नियंत्रण है।

5. उन्होंने कहा कि हम एक देश हैं और उनका दर्द हमारा दर्द है। उनके सपने हमारे सपने हैं और उनकी सफलता हमारी सफलता है। हम एक दिल, एक घर और एक गौरवशाली भाग्य को साझा करते हैं।

6. डोनाल्ड ट्रंप ने कहा, हम अपनी नौकरियां वापस लाएंगे। हम अपनी सीमाओं को फिर से चाक—चौबंद करेंगे। हम अपनी दौलत वापस लाएंगे। उन्होंने कहा कि उनका प्रशासन दो साधारण नियमों का अनुसरण करेगा— बाय अमेरिकन, हायर अमेरिकन।

7. उन्होंने कहा कि व्यापार, कर, आव्रजन, विदेश मामलों पर हर फैसले से अमेरिकी कामगारों और अमेरिकी परिवारों को फायदा पहुंचाया जाएगा। अमेरिकी नौकरियां खत्म कर रहे दूसरे देशों के विध्वंसक कदमों से अपनी सीमा की रक्षा करने का संकल्प दोहराते हुए ट्रंप ने कहा कि संरक्षण से व्यापक समृद्धि और मजबूती आएगी।